नई दिल्ली। जेएनयू छात्रों को अवसरवादी बताते हुए बीजेपी नेताओं ने विश्वविद्यालय के वामपंथी छात्र दलों पर राष्ट्र विरोधी होने का आरोप लगाया। जेएनयू कैंपस में एबीवीपी के छात्रों को संबोधित करते हुए बीजेपी नेता रामेश्वर चौरसिया ने प्रोफेसरों पर जमकर निशाना साधा।

rameshwar-chaurasia

चौरसिया ने कहा कि जेएनयू के प्रोफेसर रात में छिपकर चरस पीते हैं और सुबह ज्ञान देते हैं। देश में आज राष्ट्रवादी बनाम राष्ट्र विरोधी बहस का एक मुद्दा बन गया है। वहीं जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष रह चुके बीजेपी नेता संदीप महापात्र ने कहा कि आजादी शब्द का बहुत अधिक इस्तेमाल किया जा चुका है।

विश्वविद्यालय के संकाय सदस्य डॉक्टर अमित सिंह ने कहा कि सर्वेक्षण के अनुसार जेएनयू में यौन उत्पीड़न के सर्वाधिक मामले दर्ज किए गए। हम लोगों को विश्वविद्यालय की सकारात्मक आलोचना करने की जरूरत है। इन नेताओं को एबीवीपी ने आमंत्रित किया था। कमल संदेश के संपादक डॉक्टर शिव शक्ति ने कहा कि इन छात्रों के कारण जेएनयू की छवि को बहुत अधिक नुकसान पहुंचा है। उन्होंने जेएनयू के छात्रों को अवसरवादी बताया। (ibnlive)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें