मथुरा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि हम मथुरा में कृष्ण की बात कर रहे हैं, लेकिन आज पूरा देश कन्हैया का नाम ले रहा है। उन्होंने कहा, ‘यह देश तमाम जातियों, धर्माे का है।

akhilesh-said-modi-should-work-on-land-rather-than-facebook

सभी को देश से उतना ही लगाव है, जितना दूसरे लोग दावा कर रहे हैं कि उन्हें ज्यादा है। देश को तोड़ने वाली ताकतें ऐसा कर रही हैं।‘ किसी विशेष पार्टी का नाम लिए बगैर अखिलेश ने कहा कि देश को धर्म के नाम पर बांटने की साजिश रची जा रही है, ऐसी ताकतों को कुचलना होगा। प्रदेश सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि ‘इस बिजली का सर्वाधिक उत्पादन उत्तर प्रदेश में हो रहा है। आने वाले दिनों में शहरों को 24 और गावों को 14 से 16 घंटे बिजली देने का लक्ष्य है।

‘ अखिलेश ने केंद्र सरकार का नाम लिए बगैर कहा, ‘अदूरदर्शिता के कारण दाल मंहगी हुई। अगर दो साल पहले हम यह महसूस कर पाते की दालों की कीमत बढ़ सकती है तो आयात न करना पड़ता। देश में तमाम चुनौतियां हैं।‘ उन्होंने कहा, ‘बड़ा मुद्दा किसानों की खुशहाली और नौजवानों के रोजगार का है। नौजवान को रोजगार नहीं मिलेगा तो उम्र बढ़ती जाएगी।

बहस इन विषयों पर होनी चाहिए, लेकिन देश में बहस दूसरे मुद्दों पर हो रही है।‘ मुख्यमंत्री ने मथुरा के छाता में ग्रीन सिलिका संयंत्र का लोकार्पण किया और जैव ऊर्जा संयंत्र का भूमि पूजन किया। छाता में निजी कंपनी आशर 300 करोड़ रुपए का निवेश कर रही है।

पिछले साल सितंबर में मुंबई इन्वेस्टर्स मीट में आशर ने उत्तर प्रदेश सरकार से इस क्षेत्र में निवेश करने का समझौता किया था। कृषि आधारित कारोबार का आह्वान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उप्र सरकार कृषि उद्योगों को बढ़ावा देगी, निवेशक आगे आएं सरकार सहयोग करेगी। (24citynews)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें