नवगछिया। बिहार में गोपालपुर के जदयू विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल के विवादित बयान पर बिहार की राजनीति गरमा गई है। लेकिन विधायक अपने बयान पर कायम हैं। मंगलवार को गोपाल मंडल ने फिर कहा कि उनके कार्यकर्ताओं के साथ जो दुर्व्यवहार करेगा, उसे वे नहीं छोड़ेंगे। विधायक ने कहा कि यह बयान उन्होंने भाजपाइयों को डराने के लिए दिया था। अगर भाजपाई नहीं संभले तो वे उन्हें घर में घुस कर लाठियों से पीटेंगे।

इससे पूर्व विधायक ने गत रविवार को कहा था कि जो उनके कार्यकर्ताओं को डराएगा-धमकाएगा उसकी वे जीभ काट लेंगे। गोली मार देंगे। मेरा एक पैर जेल में और दूसरा बाहर रहता है। मैं पहले गोपाल मंडल हूं फिर एमएलए। जो गोपाल मंडल को जलील करेगा, उसे धरती पर रहने का अधिकार नहीं है। विधायक ने कहा कि किसी अज्ञात महिला के साथ वे नहीं घूमते। भवानीपुर निवासी वृद्ध दंपती प्रकरण में भाजपा ने उनके खिलाफ गलत तरीके से मामला दर्ज कराया है।

घटना के दिन उनके साथ भतीजी थी, जिसे लघुशंका लगने पर मैंने फत्तो पंडित का दरवाजा खुलवाया था। फत्तो पंडित ने मुझे पहचनाने से इन्कार कर दिया। इस पर मैंने उसे कहा था कि सुबह तुम्हें पीटेंगे। सुबह जब पता चला कि वह मेरा ही वोटर है तो मैंने उससे माफी मांग ली। लेकिन भाजपा वाले मेरे पीछे लग गए और उस परिवार को डरा-धमका कर मुझ पर झूठा केस करा दिया। (Naidunia)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें