दूसरे बजट सत्र से एक दिन पहले कांग्रेस ने इशरत जहां मामले को एक बार फिर से उठाया है। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने इस एन्काउंटर को फर्जी बताते हुए कई सवाल उठाए हैं।

इशरत जहाँ एनकाउंटर फ़र्ज़ी था, जांच भटकाने की हो रही है कोशिश: कांग्रेस

इशरत जहां मामले पर कांग्रेस का मोदी और अमित शाह पर हमला बोला है। कांग्रेस का कहना है कि जांच को भटकाने की कोशिश हो रही है। इसके साथ ही कांग्रेस ने 6 महीने के अंदर ट्रायल खत्म करने की मांग की है।

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा, कि 15 जून 2004 को हुए एन्काउंटर में इशरत समेत 3 अन्य लोग मारे गए थे। इसमें 2013 में चार्जशीट फाइल की गई थी। लेकिन ट्रायल अभी भी रुका हुआ है।

सिब्बल ने कहा, “मामले में जो मजिस्ट्रियल जांच कराई गई उसमें पाया गया कि एन्काउंटर फर्जी था। इशरत और अन्य को मारने में जिन हथियारों का इस्तेमाल किया गया। वे 9एमएम पिस्टल्स और एके-56 राइफल्स थीं। राउंड्स काफी नजदीक से दागे गए थे।”

सिब्बल ने कहा, “जब पूरा मामला हाईकोर्ट में पहुंचा। कोर्ट ने स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम को मामले की जांच के आदेश दिए। एसआईटी गठित करने के दौरान एक सदस्य को गुजरात सरकार से भी शामिल किया गया। हालांकि, एसआईटी ने यह भी पुष्टि की कि एन्काउंटर फर्जी था। जिसके बाद सीबीआई जांच का आदेश दिया गया।”

सिब्बल ने कहा, “इशरत आतंकी थी या नहीं यह फैसला कोर्ट करेगी। लेकिन यह साफ है कि एसआईटी और सीबीआई की जांच से यह साफ है कि एन्काउंटर फर्जी था।”

साभार: hindkhabar.in


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें