Taking polls temple issue: Azam

उत्तरप्रदेश के कद्दावर नेता आजम खान ने भारत और पाकिस्तान के बिगड़ते रिश्तों को लेकर कहा कि हिन्‍दुस्‍तान, पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश भाई-भाई हैं. तीनों देशों का खून, नस्ल और मिजाज एक है, सोचने का अंदाज एक है. इसके बाद भी हम आपस में इतने नाराज क्यों हैं. इस पर बात होनी चाहिए.

उन्होंने आगे कहा कि ‘किसी भी जंग का फैसला मैदान-ए-जंग में नहीं होता. दुनिया ने पहले और दूसरे विश्व युद्ध देखा. कोई समझौता मैदान-ए-जंग में नहीं हुआ. कौन हारा, कौन जीता, ये अलग बात है. तीसरी जंग भी होती है तो उसका फैसला भी मैदान-ए-जंग से नहीं निकलेगा. किसी बंद कमरे में गोलमेज पर बैठ कर कुछ लोग आगे की शांति का प्लान तैयार करेंगे.’

और पढ़े -   आजम का शिवपाल पर इशारों में हमला: आस्तीन के साँपों की वजह से हारना पड़ा चुनाव

आजम ने कहा जो जंग के परिणाम से फैसला निकाले वह समझदार नही है. समझदार वो है जो यह तय करे कि हमारा बड़ा दुश्‍मन कौन है और छोटा दुश्‍मन कौन. उन्होंने कहा हिन्दुस्तान महान था. पाकिस्तान और बांग्लादेश भी हिन्दुस्तान का हिस्सा था.

सपा नेता ने हिटलर का उदहारण देते हुए कहा कि जिस हिटलर ने यहूदी नस्ल को मिटा देने की कसम खाई थी, क्या ऐसा हो सका? आज इजराइल बहुत छोटा मुल्क होने के बावजूद भी दुनिया की इकॉनॉमी पर असर डालता है. दुनिया में सबसे ज्यादा साइंस का विकास इजराइल में हुआ.

और पढ़े -   अखिलेश बोले - डिंपल यादव अब कभी नहीं लड़ेगी चुनाव

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE