नेश्नल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष और सांसद फारुख अब्दुल्ला ने शनिवार को भारत सरकार पर कश्मीरियों के साथ धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि भारत ने कश्मीरियों को धोखा दिया प्यार नहीं दिखाया. जबकि कश्मीरियों ने उनके साथ जुड़ने का भरोसा दिखाया था.

इस दौरान उन्होंने पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) को पाकिस्तान का हिस्सा करार देते हुए कहा कि पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) पाकिस्तान का हिस्सा है और उसे पाकिस्तान से कोई छीन नहीं सकता. उन्होंने कहा, एक पाक मंत्री ने बिल्कुल सही कहा था कि आप भूल गए हैं कि जो हिस्सा आपका था वो किसी और के पास चला गया. किस प्रोसेस से हिस्सा हमारे पास आया, ये बात भी आप भूल चुके हैं. आप लगातार ये कहते हैं कि वो हिस्सा आपका है. अगर आप उस हिस्से पर अपने हक को लेकर बात करते हैं तो आपको वो प्रोसेस भी याद रखनी होगी.

जम्मू कश्मीर बातचीत के लिए सरकार के प्रतिनिधि दिनेश्वर शर्मा से मुलाकात के बाद अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए पाकिस्तान को भी साथ लेकर चलना होगा. इस समस्या के लिए सिर्फ बातचीत ही एक मात्र समाधान नहीं है. उन्होंने कहा, ये मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच का है. भारत सरकार को पाकिस्तान के साथ बातचीत करना चाहिए क्योंकि कश्मीर का एक हिस्सा उनके पास है.

अब्दुल्ला ने कहा कि आज सरकार विलयपत्र को भूल कर पाक अधिकृत कश्मीर पर भी अपना हक जताती है. अगर पाक अधिकृत कश्मीर पर भारत का हक है तो विलय पत्र की शर्तों पर भी बात होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि ‘मैं सीधे-सीधे बताता हूं. पीओके पाकिस्तान के पास है और इस तरफ का कश्मीर भारत के पास, ये स्थिति नहीं बदलने वाली है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE