पटना | राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार पर मोदी सरकार की टेढ़ी नजरे खूब इनायत हो रही है. यही कारण है की आयकर विभाग पूरी तसल्ली के साथ लालू परिवार की जांच करने में लगा हुआ है. अभी तक केवल लालू प्रसाद को उनकी संपत्तियो के लिए नोटिस थमाने वाले आयकर विभाग ने इस बार उनसे , हाल ही में हुई ‘भाजपा भगाओ और देश बचाओ’ रैली के सम्बन्ध में भी नोटिस भेजा है.

आयकर विभाग ने लालू से पुछा है की उनके पास रैली के लिए इतना पैसा कहाँ से आया? इस तरह किसी रैली के लिए पहली बार किसी पार्टी को आयकर विभाग की तरफ से नोटिस भेजा गया है. इसलिए इस पर अब सियासत भी शुरू हो गयी है. विपक्ष ने मोदी सरकार पर सीबीआई और आयकर विभाग जैसी संस्थाओ के दुरूपयोग का आरोप लगाया है. उधर बीजेपी ने उल्टा लालू प्रसाद यादव पर ही सवाल खड़े कर दिए है.

बीजेपी ने आयकर विभाग के नोटिस पर कहा की आखिर लालू प्रसाद यादव को रैली के खर्च का ब्यौरा देने में क्या आपत्ति है? हमने भी अपनी रैली के खर्चे का ब्यौरा दिया था. लालू प्रसाद यादव को आयकर विभाग के TDS शाखा की और से नोटिस मिला है. इस नोटिस में रैली के खर्चे का हिसाब माँगा गया है. इससे पहले आयकर विभाग संपत्ति के एक मामले में राबड़ी देवी और लालू के बेटे तेजस्वी यादव से पूछताछ कर चूका है.

बताते चले की 27 अगस्त को राजद ने पटना के गाँधी मैदान में ‘भाजपा बचाओ देश बचाओ’ रैली का आयोजन किया गया था. लालू ने इस रैली में लाखो लोग जुटने का दावा किया था. इस रैली के लिया काफी हाई टेक इंतजाम किये गए थे. रैली में आये सभी लोगो के लिए भोजन की भी व्यवस्था की गयी थी. इस रैली में कई विपक्षी दलों के नेताओ ने भाग लिया था. इसमें अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, गुलाब नबी आजाद जैसे नेता शामिल थे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE