bsp-chief-mayawati_650x400_71462198553

बसपा प्रमुख मायवती ने बुलंदशहर गैंगरेप मामलें में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से इस्तीफा मांगते हुए कहा कि ”अगर आप (अखिलेश) लॉ एंड ऑर्डर नहीं संभाल सकते तो इस्‍तीफा दे दें. उन्होंने आगे कहा कि अगर यूपी संभाला नहीं जा रहा है तो बेहतर होगा कि सीएम के पद से नैतिकता के आधार पर इस्‍तीफा दे देना चाहिए. ये मेरी सलाह है. इस घटना से साफ जाहिर हो गया कि यूपी में कानून का राज नहीं, जंगल राज चल रहा है.

और पढ़े -   रोहिंग्याओं के अगर आतंकियों से है सबंध तो सबूत सार्वजानिक करे मोदी सरकार: कांग्रेस

बसपा की ओर से लखनऊ में जारी मायावती के बयान में कहा गया है कि ऐसी घटना से फिर साबित हुआ है कि लोगों की जान-माल, इज्जत-आबरू की सपा सरकार में कोई कीमत नहीं रह गई है. खासकर महिलाओं का घर से निकलना बेहद असुरक्षित हो गया है. उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल किया है कि वह दुष्कर्म पीड़ित मां-बेटी की अस्मत को कैसे लौटा सकते हैं? क्या वह इस घटना को भी पैसे से तौलेंगे?

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

इस मामले में अबतक तीन आरोपी गिरफ्तार किए गए है जबकि मुख्य आरोपी अब भी फरार है. उसके लिए पुलिस की आठ टीमें चार राज्यों छापेमारी कर रही है. करीब दो दर्जन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वारदात का पर्दाफाश करने के लिए जोन के करीब 350 पुलिसकर्मियों को राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली तक दबिश पर लगा दिया गया.

और पढ़े -   महिला आरक्षण बिल: सोनिया की पीएम मोदी को चुनौती, लोकसभा में है बहुमत पास करवा कर दिखाए

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE