pap

बिहार के मधेपुरा से सांसद और जन अधिकार पार्टी के प्रमुख राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने सरकार के नोटबंदी के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि अगर बैंक और एटीएम मशीन से पैसे नहीं मिलते हैं, तो ये बेकार हैं. ऐसे में इनमें आग लगा देना चाहिए.

बिहारशरीफ में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी का फैसला बिल्कुल गलत है. नोटबंदी से केवल और केवल किसानों और आम जनता को ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा, पीएम मोदी के इस फैसले से आम जनता और किसान परेशान हैं. किसानों को फसल उत्पादन का मूल्य नहीं मिल पा रहा है और न ही पैसे.

उन्होंने कहा, “नोटबंदी से बेहतर है कि सभी राजनीतिक दलों को आरटीआई के दायरे में लाया जाए. जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आम लोगों से शराब के कारोबार को लाठी-डंडे से नष्ट करने का आह्वान कर रहे हैं, तो क्यों न जो बैंक व एटीएम ग्राहकों को रुपये नहीं दे रहे हैं, उन्हें जला दिया जाए.”

इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि अगर एक सप्ताह के भीतर 500 के नोट मिलने शुरू नहीं हुए और लोगों की समस्या दूर नहीं हुई, तो वह और उनकी पार्टी सदन को चलने नहीं देंगे. इसके अलावा बिहार को भी बंद करेंगे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE