prakash

केंद्रीय एचआरडी मिनिस्टर प्रकाश जावड़ेकर ने भारत का इतिहास ही बदल कर रख दिया हैं. उन्होंने अपने बयान में जवाहर लाल नेहरू और सरदार पटेल को शहीद बताया.

मध्य प्रदेश के छिंदवाडा में तिरंगा यात्रा के दौरान उन्होंने कहा कि भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के साथ ही जवाहर लाल नेहरू, सुभाष चंद्र बोस और सरदार पटेल भी आजादी के लिए फांसी पर झूले थे.

और पढ़े -   मोदी सरकार की बजट कटौती के चलते गई गोरखपुर में बच्चों की जान: राहुल गांधी

दूसरी ओर, प्रकाश जावड़ेकर ने ट्विटर पर अपनी सफाई दी है. उन्होंने एक के बाद एक चार ट्वीट में लिखा है, ‘मैंने 1857 के बाद के सभी स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि दी. मैंने गांधी, नेहरू, बोस का नाम लिया.

उन्होंने आगे कहा, यह लाइन यही खत्म थी. अगली लाइन में मैंने उनको गिनाया, जिन्हें फांसी दी गई, जिन्हें जेल जाना पड़ा और जिन पर अंग्रेजी हुकूमत ने जुल्म ढाए. मेरे दिमाग में इसको लेकर कोई उलझन नहीं थी. वहां सुनने वालों को कोई गलतफहमी नहीं हुई है.’

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस बन गए 'पिकनिक डे' - शिवसेना

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE