महाराष्ट्र और केंद्र की सत्ता में बीजेपी की अहम सहयोगी शिवसेना ने काले धन के मुद्दे पर प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी पर हमला करते हुए पूछा कि दो साल में कितना काला धन आया हैं ?

पार्टी के मुखपत्र सामना के संपादकीय में शिवसेना ने पीएम मोदी से पूछा कि ष्ट्र निर्माण के कार्य के लिए चुनाव से पहले काले धन के वापसी की महत्वपूर्ण घोषणा का क्या हुआ ? आगे पूछा गया कि मोदी ने हर आदमी को 15 लाख देने का वादा किया था. जिस के कारण उन पर वोटों की बरसात हुई थी. लेकिन, दो साल बाद विदेशों से कितना काला धन आया ?

और पढ़े -   सीबीआई ने जेटली के खिलाफ 400 करोड़ रु के डीडीसीए घोटाले की जांच क्यों की - कीर्ति आजाद

सामना में लिखा गया है कि कालाधन उद्योगपति, फिल्मवाले और आतंकवादी संगठनों के साथ राजनीति में भी अधिक खनकता है और वहीं पर कार्रवाई की जरूरत है. राज्यसभा, विधान परिषद चुनाव में उद्योगपतियों की ही लॉटरी क्यों लगती है? कालाधन ढूंढने के लिए स्विट्जरलैंड या मॉरिशस जाने की जरूरत नहीं। कालाधन हमारे घर में है, उसे खोदकर निकाले तो भी मोदी का मिशन सफल हो जाएगा.

और पढ़े -   बीजेपी के जंगलराज में मुस्लिमों को मारा जा रहा और सरकार पूरी तरह खामोश - सीताराम येचुरी

गोरतलब रहें कि पीएम मोदी ने हाल ही में ‘मन की बात’ में लोगो से काले धन को घोषित करने के बारे में कहा था जिसकी अवधि 30 सितबंर तक की हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE