ashok

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी पर गाय के नाम पर राजनीती करने का आरोप लगाते हुए कहा कि हिंगोनिया गौशाला, गायों के लिए गौशाला के बजाय कत्लगाह बन गयी है.

उन्होंने आगे कहा कि एक तरफ गौरक्षा के नाम पर भारतीय जनता पार्टी और उससे जुड़े संगठनों ने देशभर में ऐसा माहौल बना रखा है जिससे लोगों को मरी गाय के शव को उठाने तक को लेकर भय बना हुआ है, हाल ही में गुजरात सहित कई स्थानों पर कथित गौरक्षकों की पाशविक प्रवृत्ति को सबने देखा वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी शासित राजस्थान में पिछले लंबे समय से गाय मौत का शिकार हो रही हैं.

और पढ़े -   कोविंद को राष्ट्रपति बनाने के लिए दलित प्रेम नहीं बल्कि आरएसएस से जुड़ा होना है: मायावती

hin

गहलोत ने कहा कि बड़ी संख्या में गायों के तड़प-तड़प कर मरने की यह पहली घटना नहीं है, पूर्व में भी मैंने स्वयं चारे-पानी, चिकित्सा और देखरेख के अभाव में गायों की मृत्यु और मृत गायों के शवों के कुत्तों द्वारा नोचे जाने की ख़बरों के बारे में सरकार को आगाह किया लेकिन स्थिति जस की तस है. महज़ दो दिन में 90 गाय और दो हफ़्तों में 500 गायों की मृत्यु हुई है. उनके लिए बैठने तक का इंतज़ाम नहीं है, न ही चारे-पानी-दवाओं का पूर्ण प्रबंध है.

उन्होंने वसुंधरा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि गाय पर राजनीति करने और देशभर में छदम गौभक्ति का एक झूंठा वातावरण बनाने वाली भारतीय जनता पार्टी के खुद के शासित प्रदेश में गाय के साथ जो हो रहा है वह बेहद निंदनीय है.

और पढ़े -   रामनाथ कोविंद के चयन पर उठाये सवाल तो पत्रकार के खिलाफ बीजेपी नेता ने कराई एफआईआर

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE