udhav-650_650x488_61431800574

केंद्र और महाराष्ट्र में बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश यात्राओं पर हमला बोलते हुवे कहा कि मोदी भारत में भ्रष्टाचार के बारें में विदेशी मंचों पर सार्वजनिक बयान देकर देश को बदनाम करना बंद करें. इससे दीर्घकालिक संदर्भ में इसका देश पर नकारात्मक असर पड़ेगा.

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में लिखे एक संपादकीय में कहा, ‘प्रधानमंत्री ने दोहा में सार्वजनिक तौर पर कहा कि भारत किस कदर भ्रष्टाचार के दलदल में फंसा हुआ था और इसे साफ करने के लिए उन्होंने अपने द्वारा किए गए कार्यों का ब्यौरा दिया। भीड़ ने तालियां बजाईं और उनका उत्साहवर्धन किया। यह और कुछ नहीं, बस विदेशों में देश की छवि खराब करना है।’

और पढ़े -   मोदी के दलित मंत्री ने उठाई सवर्ण जातियों को आरक्षण देने की मांग

शिवसेना ने कहा, ‘प्रधानमंत्री अच्छी तरह जानते हैं। वह देश का चेहरा हैं और दुनिया उनपर यकीन करती है। लेकिन दुनिया उनके बयानों का गलत अर्थ भी निकाल सकती है, जिसका सीधा असर हमारी अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा।’ शिवसेना ने कहा कि भारत ही एकमात्र ऐसा देश है, जहां बीफ, चिकन, मटन, अंडा, मछली, लहसुन और प्याज खाना पाप है, लेकिन जनता की गाढ़ी कमाई पर हाथ साफ करना अपराध नहीं है।

और पढ़े -   अमेरिका में बोले राहुल - असहिष्णुता और बेरोजगारी के चलते देश खतरे में जा रहा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE