udhav-650_650x488_61431800574

शिवसेना ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा इस वर्ष लखनऊ में रावन दहन को लेकर कहा कि यूपी में चुनावों में वोट पाने के लिए भाजपा राममंदिर के नाम फिर से उछाल रही हैं.

शिवसेना ने सवाल उठाते हुए पूछा कि कौन सी चीज भाजपा को लोकसभा में पूर्ण बहुमत का उपयोग अयोध्या में मंदिर के निर्माण करने से रोक रही है? शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में एक संपादकीय में कहा कि  उत्तर प्रदेश के चुनाव भाजपा के लिए जिंदगी और मौत का सवाल है ऐसे में प्रधानमंत्री ने लखनऊ में दो बार ‘जय श्री राम’ का नारा लगा रहे हैं.

शिवसेना ने आगे कहा कि ‘लखनऊ में दशहरा मनाना और ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने के पीछे का पूरा विचार राममंदिर बनाने के नाम पर आगामी उत्तर प्रदेश चुनाव में वोट हासिल करना है. उसे (भाजपा को) उम्मीद है कि अगर मंदिर नहीं भी बना तो कम से कम कमल खिलेगा.’

संपादकीय में आगे कहा गया कि भाजपा को अब घोषणा कर देनी चाहिए कि वह राम मंदिर के मुद्दे पर और कितना राजनीति करना चाहती है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें