Gulam-Nabi-azad-620x400

वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सीआरपीएफ प्रमुख के बयान पर मायूसी जताई जिसमे  सीआरपीएफ प्रमुख ने कहा था कि कश्मीर में सीआरपीएफ के पास पैलेट गन इस्तेमाल करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है.

आजाद ने कहा कि पैलेट गन का इस्तेमाल लेागों को, खास कर युवाओं को और भी अलगाव में डाल देगा. उन्होंने आगे कहा कि कश्मीर से केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की वापसी के तुरंत बाद आया सीआपीएफ के महानिदेशक का यह बयान बताता हैं कि इसे सरकार की सहमति हासिल थी.

और पढ़े -   मोदी के दलित मंत्री ने उठाई सवर्ण जातियों को आरक्षण देने की मांग

ज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने आगे कहा, आरपीएफ के डीजी का बयान पढ़ कर मैं बहुत मायूस हूं और मैं बहुत परेशान हूं..यह नाकाबिले बरदाश्त है. मुझे अफसोस है कि भारत सरकार ने इस तरह का फैसला किया, यह जम्मू-कश्मीर के अवाम को, खासकर युवाओं को और भी अलगाव में डालेगा क्योंकि ज्यादातर युवकों को इस तरह के बर्ताव से गुजारा गया क्योंकि वे (विरोध करने में) आगे-आगे थे.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE