gigi

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तीन तलाक को लेकर चल रही बहस को लेकर कहा कि निया के कई मुस्लिम देशों में ट्रिपर तलाक पर बैन है. हम लोग चाहते हैं कि महिलाओं को न्याय और अधिकार मिलें.

उन्होंने आगे कहा कि यदि मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड शरीयत का कानून मानने की बात करते हैं तो चोर मुसलमान के हाथ भी काटे जाने चाहिए. कभी भारत का कानून कभी शरीयत का कानून नहीं चलेगा. एक तय करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर बेवजह हमलोगों को बदनाम किया जा रहा हैं. शोषित और प्रताड़ित मुस्लिम महिलाओं ने कोर्ट से गुहार लगाईं हैं. मामला कोर्ट हैं. इसमें भाजपा और केंद्र सरकार का कोई लेना देना नहीं हैं.

रविवार को देवबंद क्षेत्र में हिन्दू जनसंसद में पत्रकारों से कहा कि अल्पसंख्यक के विषय पर चर्चा की जरूरत है. देश में 20 जिले ऐसे हैं जहां मुलसमानों की संख्या 50 फीसदी और उससे ज्यादा है फिर भी वो वहां अल्पसंख्यक हैं. ऐसे में देश में अल्पसंख्यक की परिभाषा को दोबारा परिभाषित करने की जरूरत है. उन्होंने वर्तमान में सिख और जैन को ही अल्पसंख्यक बताया.

साथ ही उन्होंने हिन्दुओं को अपनी जनसँख्या बढ़ाने की सलाह देते हुए कहा कि  हिन्दुओं की संख्या लगातार घट रही है इसलिए हिंदुओं को देश में अपनी जनसंख्या को बढ़ाने के बारे में सोचना चाहिए.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें