केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि जनसंख्या को लेकर कोई कानून नहीं होने की वजह से जहां एक तरफ राम भक्तों की संख्या कम हो रही है तो वहीं दूसरी तरफ इससे सामाजिक समरसता बिगड़ रही है. उनके मुताबिक जनसंख्या नियंत्रण कानून के बिना भारत कभी विकसित राष्ट्र नहीं बन सकता है.

'राम मंदिर भारत में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बनेगा'

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राम मंदिर मुद्दे पर बोलते हुए गिरिराज सिंह ने कहा कि जनसंख्या कानून नहीं होने से सनातन धर्मियों व राम भक्तों की संख्या घट रही है और ऐसे में अयोध्या में राम मंदिर कैसे बन पाएगा. उन्होंने कहा कि वह और उनकी पार्टी कानून में यकीन रखती है, लेकिन सवाल यह है कि करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र राम मंदिर अगर भारत में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बनेगा.

गिरिराज सिंह ने इशारों में कहा कि अयोध्या और राम मंदिर से करोड़ों लोगों की आस्था जुडी हुई है, इसलिए वह हर हाल में बनकर रहेगा. उन्होंने आगे कहा कि अगर राम भक्तों की पर्याप्त संख्या नहीं बचेगी तो अयोध्या में राम मंदिर नहीं बन सकेगा.

उन्होंने चीन की जनसंख्या नीति से सीख लेने की बात भी कहीं. भारत को अगर विकसित राष्ट्र बनना है तो उसे चीन की तरह अपने यहां भी जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करना ही होगा. सामजिक समरसता बरकरार रखने के लिए भी इस तरह का कानून बनना बेहद जरूरी है.

गिरिराज सिंह ने जेएनयू मुद्दे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर फिर से निशाना साधा और यह सवाल उठाया कि आखिरकार वह पाकिस्तान की भाषा क्यों बोल रहे हैं. (pradesh18)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें