digvijay-s_650_021416094806

सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर मचा राजनीतिक घमासान ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा हैं. विदेश सचिव एस जयशंकर द्वारा POK में हुइ सर्जिकल स्ट्राइक की तरह इससे पहले भी हुई इस तरह कारवाई की बात स्वीकार करने के बाद कांग्रेस ने सर्जिकल स्ट्राइक पर रक्षा मंत्री के दावों पर प्रश्नचिंह लगाते हुए पूछा कि ‘सर्जिकल स्ट्राइक पर कौन सही विदेश सचिव या रक्षा मंत्री’.

दरअसल मंगलवार को विदेश सचिव एस जयशंकर ने संसदीय समिति को बताया था कि सर्जिकल स्ट्राइक जैसे ऑपरेशन पहले भी हुए थे लेकिन यह कारवाई सेना तक सीमित होती थी. इस बार पहली बार सेना की कारवाई को सार्वजनिक किया गया हैं. हालांकि इससे पहले रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कांग्रेस के दावो को नकारते हुए कहा था कि इससे पहले किसी सरकार के कार्यकाल में सर्जिकल स्ट्राइक नही हुआ.

कांग्रेस महासचिव और वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने इस मुद्दें पर ट्वीट कर मोदी सरकार को घेरते हुए पूछा कि ‘विदेश सचिव एस जयशंकर ने भी माना कि सर्जिकल स्ट्राइक यूपीए सरकार के दौर में भी हुए हैं. मिस्टर पर्रिकर, क्या उन्हें भी आरएसएस ने प्रशिक्षण दिया था.

हालांकि, संसदीय समिति में एस जयशंकर के बयान को लेकर ये सफाई आ रही है कि विदेश सचिव ने ये भी कहा है कि इस बार सरकार ने न सिर्फ स्ट्राइक की, बल्कि इसे सार्वजनिक तौर पर कबूल करके एलान भी किया है. यही बात अहम है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें