dhikkar railly

उना में दलित युवकों पर हुए हमले के बाद गुजरात में जनाक्रोश चरम सीमा पर है। राज्य में गांव स्तर पर इस घटना का विरोध हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गांव वडनगर में दलितों ने शनिवार को धिक्कार रैली निकाल कर घटना का विरोध किया और बाजार भी बंद रखा। इस दौरान भाजपा और मोदी के खिलाफ नारेबाजी की।

और पढ़े -   पीड़ित दलितों से मिलकर मायावती ने कहा - योगी सरकार दलित विरोधी, संघर्ष के लिए रहो तैयार

धिक्कार रैली के बाद दलितों ने तहसीलदार को ज्ञापन दिया। हालांकि, यहां के दलित विधायक इस रैली में शामिल नहीं थे। दलितों ने यहां दो दिनों से मृत पशुओं को हटाने का काम भी बंद कर दिया है। इस बीच, सीआइडी क्राईम के अधिकारी ने राजकोट सिविल अस्पताल में भर्ती चार पीडि़तों का भी बयान दर्ज किया है।

इस मामले में अब तक 16 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। कुल 35 लोगों को इसमें आरोपी बताया जा रहा है। सीआइडी को 60 दिनों में आरोपपत्र दाखिल करने का आदेश दिया गया है।

और पढ़े -   दो करोड़ रोजगार देने का वादा भी निकला जुमला, अमित शाह ने कहा, सबको रोजगार देना संभव नही

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE