mamata-banerjee-lucknow-647_112916052416

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की हत्या की साजिश को लेकर गुरुवार को संसद में जमकर हंगामा हुआ. दरअसल बुधवार को ममता बनर्जी इंडिगो एयरलाइंस के एक प्लेन में सवार थी. इस प्लेन को कोलकाता के नेताजी सुभाषचंद्र बोस इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर लैंड करना था. लेकीन प्लेन को करीब आधे घंटे तक लैंडिंग की इजाजत नहीं दी गई. जिसके कारण वह आसमान में चक्कर काटता रहा.

तृणमूल के नेता सुदीप बंधोपाध्याय ने लोकसभा में इस मामले को उठाते हुए कहा कि  ममता को लेकर आ रहे इंडिगो की फ्लाइट में फ्यूल कम था, इसके बावजूद उसे काफी वक्त तक लैंड न कराके चक्कर काटने के लिए कहा गया. सपा के रामगोपाल यादव ने कहा कि लोगों के मन में संदेह तो पैदा होता ही है, जांच होनी चाहिए, जांच रिपोर्ट पटल पर आनी चाहिए. वहीं मायावती ने कहा कि ये मामला काफी गंभीर है, संवेदनशील है, इसे दलगत राजनीति के तौर पर नहीं देखना चाहिए.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जब प्लेन में फ्यूल नहीं था तो एयर ट्रैफिक कंट्रोल की यह जिम्मेदारी थी कि प्लेन को जल्द लैंडिंग की इजाजत दी जाए. जेडीयू नेता शरद यादव ने कहा कि ये गंभीर घटना है, इसी सदन में जांच बैठानी चाहिए, ये बात इतनी गंभीर है कि सरकार को तुरंत एक्शन लेना चाहिए.

ममता के साथ विमान में सफर कर रहे राज्य के शहरी विकास मंत्री फरहाद हाकिम के अनुसार, कोलकाता से 180 किमी पहले ही पायलट ने यह ऐलान कर दिया था कि प्लेन पांच मिनट में लैंड कर जाएगा. इसके बावजूद, लैंडिंग आधे घंटे के बाद हुई. उन्होंने आरोप लगाया कि पायलट ने कम फ्यूल की बात कहकर एटीसी से जल्द लैंडिंग की इजाजत मांगी, लेकिन एटीसी ने फ्लाइट को होल्ड पर रखा.

और पढ़े -   महिला आरक्षण बिल: सोनिया की पीएम मोदी को चुनौती, लोकसभा में है बहुमत पास करवा कर दिखाए

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE