rahul

पिछले वर्ष नवंबर में असहिष्णुता के मसले पर दिया गया आमिर खान का बयान क्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को अब याद आया हैं. रक्षा मंत्री ने आमिर खान का बगैर नाम लिए बिना कहा कि ‘एक अभिनेता ने कहा है कि उनकी पत्नी भारत से बाहर जाना चाहती है. यह दंभपूर्ण बयान है। यदि मैं गरीब हूं और मेरा घर छोटा है तो क्या हुआ…मैं तब भी अपने घर से प्यार करूंगा और हमेशा उसे बंगला बनाने का सपना देखूंगा.’

और पढ़े -   कश्मीरी मोदी सरकार और आतंकियों के बीच फंस कर रह गए: चिदंबरम

रक्षामंत्री अपने इस बयान के बाद विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं. कांंग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि आरएसएस और पर्रिकर जी सबको सबक सिखाना चाहते हैं. उन्होंने आगे कहा, एक सबक आपके लिए भी है, कायर लोग ही नफरत करते हैं और इसकी कभी जीत नहीं होती.

कांग्रेस के नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर रक्षामंत्री से सवाल किया कि – मनोहर पर्रिकर का काम पाकिस्तान जैसे बाहरी दुश्मनों से हमारी रक्षा करना है या फिर आमिर खान जैसे साथी को धमकाना है?

सुरजेवाला ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि पर्रिकर के बयान से यह साबित होता है कि हर तरह की विरोधी आवाज़ों को दबाने और दलितों और अल्पसंख्यकों को खदेड़ने की साज़िश की जाती है। क्या यह ‘राज धर्म’ हो सकता है?


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE