नई दिल्ली । आख़िरकार वो दिन आ ही गया जिसका काफ़ी कांग्रेसजन काफ़ी दिनो से इंतज़ार कर रहे थे। पीछले कई दिनो से पार्टी के अंदर इस बात की माँग उठ रही थी की कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी की कमान सौंपी जाए। इसके लिए कुछ वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओ की और से भी आवाज़ें उठायी जा रही थी। आज वो इंतज़ार ख़त्म हुआ और राहुल गांधी की ताजपोशी की तारीख़ों का एलान कर दिया गया।

अधिकारिक तौर पर देखा जाए तो 19 दिसम्बर को राहुल पार्टी की कमान सम्भालेंगे लेकिन अगर सब उम्मीद के मुताबिक़ रहा तो 4 दिसम्बर को ही यह औपचारिकता पूरी कर ली जाएगी। सोमवार को पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ पर कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक आयोजित हुई। इस बैठक को सोनिया के अलावा राहुल और कई अन्य वरिष्ठ नेताओ ने सम्बोधित किया।

बैठक में पार्टी के अगले अध्यक्ष के चुनाव की तारीख़ों पर भी फ़ैसला लिया गया। हालाँकि इस बात के क़यास पहले से लगाए जा रहे थे की कार्यसमिति की बैठक में पार्टी अध्यक्ष के चुनाव पर चर्चा होगी। चुनाव कार्यक्रम के अनुसार 1 दिसम्बर को चुनाव की अधिसूचना जारी होती और नामक करने की अंतिम तिथि 4 दिसम्बर तय की गयी है। अगर एक से ज़्यादा वैध नामांकन आते है तो 15 दिसम्बर को चुनाव कराए जाएँगे और 19 दिसंबर को मतगणना की जाएगी।

हालाँकि इस बात के आसार बिलकुल भी नही है की कोई भी नेता राहुल गांधी के आगे नामांकन करे। इसलिए यह माना जा रहा है की 4 दिसम्बर को ही राहुल की ताजपोशी हो जाएगी। उधर कार्यसमिति को सम्बोधित करते हुए राहुल गांधी ने गुजरात चुनाव पर अपना फ़ोकस रखा। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह की जोड़ी पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का भी आरोप लगाया। उधर सोनिया गांधी ने संसद के शीतकालीन सत्र को टालने पर मोदी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह एक स्वस्थ लोकतंत्र और स्वस्थ संसदीय परम्परा के लिए सही नही है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE