भारतीय जनता पार्टी के नेता और गोरखपुर सांसद गोरखपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने आसरीमठ में जीवित भंडारा समारोह में भाग लिया. इस दौरान उन्होंने विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि मैं फिर ये दावे के साथ कह सकता हूं कि जिन लोगों को भारत माता की जय करने में संकोच होता है मुझे उनके पैदा होने पर संदेह होता है कि उनको अपनी मां पर भी संदेह है. 
योगी आदित्यनाथ जैसलमेर में चल रहे जीवित भंडारा कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए हैं. योगी का यहां पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गयाय कई अखाड़ों के साधू संतो ने उनका स्वागत किया.
उन्होंने समारोह में  बोलते हुए तमाम हिन्दुओं को भेदभाव मिटा पर एक होने की बात कही. उन्होंने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्र होने के कारण हिंदुओं को ज्यादा सतर्क और संगठित रहना होगा.
उन्होंने कहा कि अगर भारत को भारत बना रहना देना है तो हिंदुओं को आपस में सभी भेदभावों तथा मनमुटावों को छोड़कर संगठित होना होगा. तभी भारत देश बच पाएगा. अगली स्लाइड में पढ़ें, योगी और क्या बोले?
उन्होंने असहिषुणता के सवाल पर कहा की ये वो लोग है जो विदेशी झूठन खाते हैं मगर देश को बदनाम करते हैं. वर्तमान सरकार बहुत बढ़िया काम कर रही है और ये सब षड्यंत्र है उसको बदनाम करने का.
पाकिस्तान में धमाकों के सवाल पर कहा की वो स्वयं अपने अस्तित्व और वजूद को मिटाने में लगा हैं. पाकिस्तान और बांग्लादेश में हो रहे हिन्दुओं पर अत्याचार को लेकर मानवाधिकार आयोग व संगठनों को संज्ञान लेना चाहिए तथा संयुक्त राष्ट्र को भी इस मामले को देखना चाहिए. योगी आदित्यनाथ मंगलवार जीवित भंडारे के अंतिम दिन इसमें हिस्सा लेंगे और मंगलवार को ही उनका वापिस लौटने का कार्यक्रम है.

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें