कांग्रेस नेता और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित द्वारा सेना प्रमुख के बारे में विवादित बयान देने के बाद राजनीतिक घमासान मचा हुआ है. हालांकि उन्होंने अपने बयान से माफ़ी मांग ली है.

दरअसल,  संदीप दीक्षित ने रविवार को आर्मी चीफ की तुलना “सड़क के गुंडे” करते हुए कहा था कि हमारी सेना सशक्त है. जब भी पाकिस्तान वहां हरकत करता है सेना उसको जवाब देती है यह सबको मालूम है. वो दूसरी बात है कि आज के प्रधानमंत्री, आज लोग इस बात को ज्यादा जोर से चिल्लाते हैं, लेकिन हमारी सेना सशक्त है और हमेशा हमने सीमा पर पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है.

और पढ़े -   टोल मांगने पर प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष का जवाब, मैं सांसद हूँ और टोल फ्री भी

उन्होंने आगे कहा, आज की बात नहीं यह पिछले 70 साल से चला आ रहा है. पाकिस्तान एक ही चीज कर सकता है कि इस तरह की उलूल-जुलूल चीजें करे, बयानबाजी करे. खराब तब लगता है जब हमारे थल सेना अध्यक्ष सड़क के गुंडे की तरह अपने बयान देते हैं. पाकिस्तान का दे तो दे…वो तो हैं हीं. पाकिस्तान फौज में क्या रखा है वे तो माफिया टाइप के लोग हैं, लेकिन हमारे सेना अध्यक्ष भी इस तरह के बयान क्यों देते हैं.’

विवाद बढ़ता देख कांग्रेस ने खुद को इस बयान से अलग कर लिया. पार्टी नेता मीम अफजल ने आर्मी चीफ के लिए इस तरह की बयानबाजी पर अफसोस जताया. फिर संदीप दीक्षित ने भी इस संदर्भ में माफ़ी मांगते हुए कहा कि ‘मैं वास्तव में विश्वास करता हूं कि जो मैंने कहा वह गलत था. इसलिए मैं माफी मांगता हूं और बयान वापस लेता हूं.’

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों के मुद्दें पर भारत बना रहा म्यांमार पर दबाव: सुषमा स्वराज

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE