नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि केंद्र अब दिल्ली और हिमाचल प्रदेश की सरकारों को ‘अस्थिर’ करने की कोशिश करेगा।

kejriwal over jnuपठानकोट आतंकी हमले की जांच के लिए पाकिस्तानी जेआईटी को आने की अनुमति दिए जाने को लेकर भी उन्होंने पीएम मोदी पर हमला किया और कहा कि पाकिस्तान के प्रति प्रधानमंत्री के ‘रुख’ का मकसद ‘नोबेल शांति पुरस्कार’ पाना है।

केजरीवाल ने कहा कि उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना बाबासाहेब अंबेडकर के संविधान की ‘हत्या’ करने जैसा है। साथ ही कहा कि दिल्ली और हिमाचल प्रदेश की सरकारों को अस्थिर करने की योजना के बारे में उन्हें पता है।

उत्तराखंड में ‘खरीद-फरोख्त’ को लेकर निशाना साधते हुए उन्होंने बीजेपी को एक भी ‘आप’ विधायक को खरीदने की चुनौती दी। केजरीवाल ने आरोप लगाया, ‘आईबी के एक अधिकारी ने मुझे बताया कि एक बड़े उद्योगपति को आप विधायकों को खरीदने की जिम्मेदारी दी गई है।’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें