fool 619x330

बुलंदशहर | करीब 7 महीने पहले प्रचंड बहुमत के साथ यूपी में सरकार बनाने वाली बीजेपी के लिए पहली बड़ी परीक्षा नगर निकाय चुनावो में होगी. इसी महीने के अंत में होने वाले नगर निकाय चुनावो में बीजेपी के अलावा बाकी विपक्षी दल भी पूरी मजबूती के साथ चुनाव मैदान में है. पहली बार बसपा भी पार्टी सिंबल पर ये चुनाव लड़ रही है. जिससे मुकाबला और कड़ा होने की उम्मीद है. लेकिन बीजेपी के लिए ये चुनाव इतने आसान नही होने वाले है.

बीजेपी के लिए सबसे बड़ा वोट बैंक समझे जाने वाला व्यापारी वर्ग फ़िलहाल योगी और मोदी सरकार से काफी नाराज दिख रहा है. इसके पिछले नोट बंदी और जीएसटी को जिम्मेदार माना जा रहा है. व्यापारियों का कहना है की जीएसटी के बाद अफसर आये दिन व्यापारियों का शोषण कर रहे है. प्रदेश ही नही बल्कि पुरे देश में व्यापरी वर्ग परेशान नजर आ रहा है जिसकी वजह से बीजेपी के प्रति लोगो की नाराजगी बढ़ रही है.

इसकी एक बानगी बुलंदशहर में देखने को मिली जहाँ व्यापरियों ने अपनी दुकानों के सामने बैनर लगाकर बीजेपी के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर की. व्यापरियों ने बैनर में लिखा ‘कमल का फूल, हमारी भूल’, कृप्या बीजेपी के लिए वोट मांगकर शर्मिंदा न हो. ये बैनर नरेन्द्र गोयनका नामक एक व्यापारी ने लगाए है. इस पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए उन्होंने कहा की मैं बीजेपी का कट्टर समर्थक रहा हूँ.

लेकिन योगी और मोदी सरकार की नीतियों की वजह से व्यापारियों का जीना मुहाल हो गया है. कस्बे में भाजपा सरकार द्वारा भेदभावपूर्ण तरीके से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया, जिसमें मनमर्जी के मुताबिक अतिक्रमण हटाया गया, जिसका चाहे बचा दिया और जिसका चाहे गिरा दिया. इसके अलावा व्यापारी ने जीएसटी के बाद अफसरों द्वारा शोषण का भी आरोप लगाया. ये बैनर बुलंदशहर के कस्बा गुलावठी के सैदपुर रोड स्थित रोड पर लगे हुए हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE