“बहुजन समाज पार्टी ने हैदराबाद विश्वविद्यालय के दलित छात्र रोहित वेमुला आत्महत्या मामले में केंद्रीय मंत्रियों का इस्तीफा मांगा है। साथ ही पार्टी ने इस पूरे प्रकरण की वस्तुस्थिति जानने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल भी भेजा है।”

बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को कहा कि दलित समाज को न्याय मिलना अब और ज्यादा लगातार मुश्किल होता जा रहा है। पार्टी द्वारा जारी बयान में मायावती ने कहा कि भाजपा सरकार व उनके मंत्रियों की सोच व व्यवहार खासकर दलितों, पिछड़ों व मुस्लिम समाज के लोगों के प्रति कितनी ज्यादा घातक, क्रूर, जातिवादी व अमानवीय है। इसी वजह से नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद से दलित, अल्पसंख्यक और पिछड़े वर्ग के ‌खिलाफ अन्याय बढ़ता जा रहा है।

और पढ़े -   कोविंद के समर्थन पर बोले गुलाम नबी आजाद - वो कट्टर भाजपाई हैं, ऐसे में समर्थन संभव नहीं

मायावती ने कहा कि इस घटना की जितनी भी निंदा की जाए वह कम है। मामल की सच्चाई जानने के लिए बसपा प्रमुख ने राज्यसभा सांसद वीर सिंह एडवोकेट के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल भी हैदराबाद भेजा है। गौरतलब है कि राहुल वेमुला आत्महत्या मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी हैदराबाद जा चुके हैं। साभार: outlookhindi

और पढ़े -   कोविंद को राष्ट्रपति बनाने के लिए दलित प्रेम नहीं बल्कि आरएसएस से जुड़ा होना है: मायावती

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE