भाजपा से निलंबन के बाद सांसद कीर्ति आजाद ने वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आक्रामक हमले तेज कर दिए हैं. शनिवार को तो कीर्ति ने अरुण जेटली को दरभंगा से लोकसभा का चुनाव लड़ने और जीत दर्ज करने की चुनौती दे डाली.

कीर्ति आजाद की चुनौती, दरभंगा से लोकसभा का चुनाव जीतकर दिखाएं जेटली

कीर्ति ने कहा, ‘अगर अरुण जेटली दरभंगा सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे तो मैं उनके खिलाफ निर्दलीय उतरने को तैयार हूं.’

आजाद के इस बयान को तंज के तौर पर भी देखा जा रहा है, क्‍योंकि अरुण जेटली अमृतसर से लोकसभा का चुनाव हार गए थे.

‘मुझे पार्टी से निकालो’: शनिवार को दरभंगा पहुंचे कीर्ति आजाद ने कहा कि अगर उन्‍होंने डीडीसीए घोटाले का पर्दाफाश करके कोई जुर्म किया है तो उन्‍हें केवल निलंबित क्‍यों किया गया? अगर ये पार्टी विरोधी काम है तो उन्‍हें तत्‍काल भाजपा से निकाल दिया जाना चाहिए.

कीर्ति ने कहा कि डीडीसीए मुद्दे पर अपनी बात रखने के लिए उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से समय मांगा है.

इससे पहले कीर्ति आजाद ने शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र दरभंगा में कार्यकर्ताओं के साथ जुलूस निकाला. इस दौरान कहा कि उन्‍होंने कोई अपराध नहीं किया है, इसलिए उनका निलंबन रद्द होना चाहिए.

आजाद की रैली में भाजपा का झंडा और जेटली के खिलाफ पोस्‍टर: निलंबित सांसद कीर्ति आजाद के जूलुस में बेहद दिलचस्‍प वाक्‍या देखने को मिला. आजाद के समर्थक भाजपा का झंडा लिए हुए थे, जबकि वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ पोस्‍टर थे. पोस्‍टरों में लिखा था कि अरुण जेटली भ्रष्‍ट नेता हैं.

मालूम हो कि दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बाद सांसद कीर्ति आजाद ने डीडीसीए में घोटाले का आरोप लगाया था. साथ ही आरोप लगाया था कि जब अरुण जेटली डीडीसीए के चेयरमैन थे तभी ये घोटाले हुए साभार: न्यूज़ 18


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें