कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आज आरोप लगाया कि उसने पिछले 22 माह के शासन की विफलता को छिपाने के लिए राष्ट्रवाद का हौव्वा खड़ा किया है।

Conngress leader Manish Tiwariकांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में की गयीं टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि देश की दुर्गति करने की किसी भी कीमत पर इजाजत नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि‘भारत माता की जय’के नारे पर कोई विवाद नहीं है लेकिन भाजपा इसे जबरन राष्ट्रवाद का लिटमस टेस्ट बनाने की कोशिश कर रही है।

और पढ़े -   कर्ज माफी पर शिवसेना की धमकी - योजना ठीक से लागू नहीं हुई तो बीजेपी का फोड़ेंगे भांडा

राष्ट्रवाद का हव्वा 

उन्होंने कहा कि भारत माता की जय, मेरा भारत महान और जय हिन्द एक ही भावना के परिचायक है। उन्होंने कहा कि जब नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने जय हिन्द और भगत सिंह ने इन्कलाब जिन्दाबाद के नारे लगाये थे तो क्या वे भारत की जय के नारे लगाने वालों से कम देशभक्त थे।

तिवारी ने कहा कि राष्ट्रवाद का हौव्वा खड़ा करने का एकमात्र मकसद राजग सरकार की 22 माह की विफलताओं को छिपाना है चाहे वह आर्थिक मोर्चे की बात हो या फिर महंगाई या विदेश नीति का मामला हो। उन्होंने कहा कि यह विडम्बना है कि छद्म राष्ट्रवादी देश में राष्ट्रवाद की ठेकेदारी करने लग गये हैं।

और पढ़े -   बीजेपी के साथ जाने पर पार्टी सांसद अली अनवर ने नीतीश कुमार को लताड़ा

देश को बांटने का प्रयास

कांग्रेस ने महाराष्ट्र विधानसभा से एआईएमअईएम विधायक को निलंबित करने के मामले में अपनी भूमिका को आज अधिक तवज्जो नहीं दी किन्तु भाजपा को आगाह किया कि भारत माता की जय के नारे के मुद्दे पर देश को बांटने का प्रयास करना खतरनाक है। पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी ने यहां संवाददाताओं से कहा कि भारत माता की जय, जय हिन्द, मेरा भारत महान एक ही भावना की अभिव्यक्ति हैं।

और पढ़े -   बीजेपी के समर्थक अल्पसंख्यकों और दलितों पर अत्याचार के है समर्थक: सीपीएम

इस अग्निपरीक्षा के आधार पर देश को विभाजित करने का प्रयास राष्ट्रवाद को कमतर करना है। यह भारत के लिए खतरनाक है। उन्होंने ध्यान दिलाया कि भावना को प्रकट करने के लाखों तरीके हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि किसी खास तरह से काम नहीं करने वाले को राष्ट्र विरोधी करार देते के प्रयास उचित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि जब नेताजी ने जयहिन्द कहा और भगत सिंह ने इंकलाब जिंदाबाद कहा तो क्या वे भारत माता की जय कहने वालों से कम थे। (hindkhabar)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE