लखनऊ: भाजपा ने 1990 में अयोध्या में विवादित ढांचा बचाने के लिए कारसेवकों पर गोलियां चलवाने पर अफसोस जताने वाले सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव से माफी मांगने की मांग करते हुए कहा कि महज दुख जता देने से उन कारसेवकों के परिजनों को सुकून नहीं मिलेगा, जो अयोध्या में सुरक्षाबलों की गोलियों का निशाना बने थे।

कार सेवकों पर गोली चलवाने वाले फैसले पर मुलायम माफी मांगें : भाजपाभाजपा के प्रान्तीय प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने जिन कारसेवकों पर गोलियां चलवाईं वे निहत्थे थे। ऐसे में उन पर गोली चलाने का आदेश देकर जघन्य अपराध किया गया।

और पढ़े -   सहारनपुर की आड़ में थी बीजेपी की और से मेरी हत्या कराने की साजिश: मायावती

उन्होंने कहा, आज 24 साल बाद उस घटना पर दुख व्यक्त कर देने से उन परिवारों के जख्म नहीं भरेंगे, जिन्होंने उस घटना में अपने अपनों को खोया। क्या मुलायम वाकई उस नुकसान की भरपाई करने का माद्दा रखते हैं? उन्हें इस गुनाह के लिए सार्वजनिक मंचों पर माफी मांगनी चाहिए।

गौरतलब है कि सपा मुखिया यादव ने वर्ष 1990 में अयोध्या में विवादित ढांचा बचाने के लिए कारसेवकों पर गोली चलवाने के अपने फैसले पर अफसोस जाहिर किया था, लेकिन साथ ही यह भी कहा था कि धर्मस्थल को बचाने के लिए ऐसा करना जरूरी था। साभार: NDTV

और पढ़े -   महिला आरक्षण बिल: सोनिया की पीएम मोदी को चुनौती, लोकसभा में है बहुमत पास करवा कर दिखाए

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE