5 1 2000496 835x547 m

बाराबंकी । उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनावों का बिगुल बज चुका है। इस बार के निकाय चुनाव सत्ताधारी भाजपा के लिए काफ़ी अहम माने जा रहे है। क्योंकि इन चुनावों के नतीजे यह तय करेंगे की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार का जादू अभी भी बरकरार है या नही। हालाँकि भाजपा का दावा है की पीछले 8 महीनो में योगी सरकार ने बेहतरीन काम किया है। प्रदेश में भ्रष्टाचार और अपराध में कमी आयी है।

उधर विपक्षी दल योगी सरकार को हर मोर्चे पर विफल क़रार दे रहे है। उनका कहना है की प्रदेश में पीछले 8 महीने में अपराध बढ़े है। सरकार अपराधियों पर अंकुश लगाने में विफल रही है। हालाँकि चुनावों में आरोप प्रत्यारोप लगते रहते है लेकिन इतिहास में शायद पहली बार ऐसा हो रहा है की यूपी निकाय चुनावों को सभी दल इतनी गम्भीरता से ले रहे है। यहाँ तक कि बसपा ने पहली पर अपने सिम्बल पर चुनाव लड़ने का एलान किया है।

इसलिए चुनौतियों से निपटने के लिए भाजपा भी कोई कसर नही छोड़ना चाहती। यही वजह है की अब भाजपा नेता मतदाताओं को धमकाने भी लगे है। दरअसल बाराबंकी के वर्तमान चेयरमैन रंजीत बहादुर श्रीवास्तव ने एक सभा में मुस्लिम मतदाताओं को वोट नही करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी। रंज़ीत सभा में अपनी पत्नी शशि श्रीवास्तव के लिए वोट माँग रहे थे। शशि भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही है।

रंजीत ने सत्यप्रेमी नगर के रमस्वरूप यादव पार्क में एक सभा को सम्बोधित करते हुए कहा की मैंने पीरबटावन में कहा है कि यह भाजपा की सरकार है, समाजवादी की नही की आप (मुस्लिम मतदाता) डीएम, एसपी से अपना काम करवा लेते थे। यहाँ पर तुम्हारा कोई भी नेता कोई काम नही कर सकता। खड़ंजा, नाली सब नगर पालिका का काम है। इसके अलावा भी कई दुःख मुसीबतें तुम्हारे ऊपर आ सकती है।

रंजीत ने आगे कहा कि भाजपा में तुम्हारा कोई भी पैरोकर नही है। इसलिए अगर तुमने भाजपा के सभासदो और शशि श्रीवास्तव को तुमने बिना भेदभाव वोट नही दिया और यह दूरी बनकर रखी तो समाजवादी पार्टी भी तुम्हें बचाने नही आएगी। फ़िलहाल जो कष्ट तुमको झेलने नही पड़े वो अब उठाने पड़ सकते है। इसलिए मैं मुसलमानो से कह रहा हूँ की वोट दे देना। मैं भीख नही माँग रहा। वोट डोंगे तो सुखी रहोंगे नही दोंग़े तो कष्ट झेलोगे।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE