बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) नेता मायावती के राज्यसभा से इस्तीफा देने को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी दलित, महिला और अल्पसंख्यक विरोधी है.

उन्होंने बताया कि उन्होंने मायावती को समझाने की बहुत कोशिश की लेकिन वह नहीं मानी और राज्य सभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा, मायावती सदन में अपनी बात रखने का मौका नहीं मिलने से बहुत दुखी थीं.

और पढ़े -   दाऊद की बीवी आकर चली गई और मोदी सरकार सोती रही: कांग्रेस

कांग्रेस नेता ने कहा, मैं उन्हें समझाने का बहुत प्रयास करता रहा लेकिन वह अत्यधिक आहत थीं और उन्होंने मेरी बात नहीं मानी और इस्तीफा दे दिया.

उन्होंने कहा, देश में दलितों, अल्पसंख्यकों तथा महिलाओं के साथ अत्याचार हो रहे हैं लेकिन सरकार उनके हितों के लिए कोई कदम नहीं उठा रही है.

उन्होंने आरोप लगाया कि ऐसा लगता है कि भाजपा को लोगों को मारने का जनादेश मिला है इसलिए दलितों तथा अल्पसंख्यकों के खिलाफ हो रहे अत्याचारों पर वह चर्चा भी नहीं करना चाहती है।

और पढ़े -   अमेरिका में बोले राहुल - असहिष्णुता और बेरोजगारी के चलते देश खतरे में जा रहा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE