owa

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र की भाजपा-शिवसेना सरकार ने राज्य भर में मुस्लिमों और दलित समुदाय की कठिनाइयों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनके खिलाफ भेदभाव किया जा रहा है.

जालना नगर परिषद् के लिए एमआईएम उम्मीदवार अजमल सोहेल सिद्दिकी का चुनाव प्रचार करने पहुंचे ओवैसी ने कहा कि राज्य में दोनों राजनीतिक संगठन (भाजपा-शिवसेना और कांग्रेस-राकांपा) ने इतने वर्षों तक इन समुदायों के हितों को नजरअंदाज किया.
उन्होंने कहा, ‘‘वे दोनों जुडवां भाई हैं और मुस्लिमों और दलितों की समस्याएं सुनते ही नहीं हैं.” ओवैसी ने आरोप लगाया कि भाजपा अत्याचार कानून को खत्म कर मनु के सिद्धांतों पर देश चलाना चाहती है जो दलितों की रक्षा करता है.उन्होंने आरोप लगाया कि वे संवैधानिक ढांचे को भी समाप्त करना चाहते हैं.
आरक्षण के मुद्दे पर उन्होंने जानना चाहा कि महाराष्ट्र की पूर्ववर्ती कांग्रेस-राकांपा की सरकार ने अपने शासनकाल में मराठाओं को आरक्षण सुनिश्चित क्यों नहीं किया.
और पढ़े -   राहुल ने मोदी पर आरएसएस के लोगो को हर संस्थान में डालने और झूठ बोलने का लगाया आरोप

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE