arv

केंद्र सरकार द्वारा अब देश की जनता को नगदी उपलब्ध कराने के लिए बिग बाजार का सहारा लिया हैं. अब लोगों को बिग बाजार से डिबेट कार्ड के जरिए 2000 तक मिल सकेंगे.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल नोटबंदी के बाद PayTM को लेकर पहले ही मोदी सरकार पर हमलावर थे. लेकिन अब इस फैसले ने केजरीवाल को एक और मौका दे दिया हैं. उन्होंने ट्वीट कर पूछा कि आखिर बिग बाजार को क्यों चुना, क्या डील हुई है मोदी जी. पहले रिलायंस, फिर पेटीएम और अब यह…

केजरीवाल के अलावा केंद्र के इस फैसले पर लेफ्ट नेता सीताराम येचुरी ने भी सवाल खड़े करते हुए कहा कि यह सब क्या हो रहा है. क्या इस प्राइवेट कंपनी को आरबीआई ने बैंकिंग का लाइसेंस दिया है. केवल इस प्राइवेट कंपनी को ही क्यों…

और पढ़े -   मोदी के सरकार के तीन साल पर लालू ने कहा - 'चाय-गाय, दंगा-फंगा, फीता-गीता, यही है ना उपलब्धि'

उन्होंने आगे कहा कि समस्या नोट लोगों तक पहुंचाने की नहीं है, समस्या मोदी सरकार की एटीएम और बैंकों तक पर्याप्त मात्रा में नोट पहुंचाने की है.

अपने तीसरे ट्वीट में येचुरी ने कहा कि प्राइवेट रिटेलर को नोट देने का तमाशा करने के बजाय मोदी सरकार को बैंक और एटीएम पर ज्यादा नोट उपलब्ध कराना चाहिए. खासतौर पर ग्रामीण इलाके में…


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE