अखिलेश सरकार में मंत्री रहे समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान के मीडिया प्रभारी ने सीएम योगी आदित्यनाथ को खून से लिखा हुआ खत भेजा है. जिसमे जौहर यूनिवर्सिटी को लेकर नेताओं के द्वारा की जा रही जुबानी जंग पर नाराजगी जताई गई है.

आजम खान के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां शानू ने लिखा कि  “आजम खान ने स्कूल और यूनिवर्सिटी बनाकर कोई गुनाह नहीं किया है. बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए स्कूल और यूनिवर्सिटी खोले गए हैं, लेकिन इसको लेकर आए दिन जुबानी जंग हो रही है. जिससे वह आहत हैं. भाजपा नेताओं के साथ सरकार भी यूनिवर्सिटी को निशाना बना रही है.

और पढ़े -   मोदी सरकार की बजट कटौती के चलते गई गोरखपुर में बच्चों की जान: राहुल गांधी

उन्होंने आगे लिखा, हमसे जो भी बदला लेना हो, ले लिया जाए, लेकिन स्कूलों को निशाना ना बनाया जाए. दरअसल जौहर अली यूनविर्सिटी को लेकर हाल ही में स्थानीय भाजपा नेता व योगी सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण एवं सिंचाई मंत्री बलदेव सिंह औलख ने विवादास्पद बयान देते हुए विश्वविद्यालय में जनता दरबार लगाने की बात कही थी, जिस पर आजम ने विरोध जताया था.

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में कुर्सी न मिलने पर भडके बीजेपी विधायाक बोले, मैं अब भी गुलाम

आजम द्वारा यूनिवर्सिटी को डायनामाइट द्वारा उड़ाने की बात सामने आने पर औलख ने विश्वविद्यालय को आतंकियों की शरणास्थली करार दिया है और कहा आजम खान ने इसको डायनामाइट से उड़ाने की बात कहकर खुद इस बात का सबूत दे दिया है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE