Photo credit - ANI
Photo credit – ANI

पत्रकार पुष्प शर्मा को पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया है  अगर आपने इससे पहले इन पत्रकार का नाम सुना नही सुना है तो हम बताते है। पुष्प शर्मा वही पत्रकार है जिन्होंने आयुष मंत्रालय से आरटीआई के जवाब के हवाले से कहा था की आयुष मंत्रालय मुसलमानों को नौकरी नही देता है

शनिवार को दिल्ली पुलिस ने पत्रकार पुष्प शर्मा को धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार पुष्प शर्मा ने आरटीआई के जवाब से छेड़छाड़ की है जिसके आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया है वहीँ पुष्प शर्मा इसी बात पर अड़े रहे की जो आरटीआई उन्होंने दिखाई है निसंदेह आयुष मंत्रालय की ही है।

और पढ़े -   मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे: राहुल गांधी

गौरतलब है की पुष्प शर्मा की यह रिपोर्ट मिल्लीगजट के मार्च 31 2016 के अंक में छपी थी। जिसके कुछ दिन बाद ही कोटला मुबारकपुर की पुलिस ने पूछताछ की थी। इसके बाद आरटीआई ‌के जवाब को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया था।

पूछताछ के बाद शर्मा को तब इस शर्त पर छोड़ दिया गया था कि वो पु्लिस की आज्ञा के बिना न देश और न ही दिल्ली छोड़कर जाएंगे। पुलिस ने मिली गजट के संपादक डॉ. जफरुल-इस्लाम खान से भी 11 अप्रैल को गवाह के तौर पर पूछताछ की थी।

और पढ़े -   बंदूक के जरिए कश्मीर में तनाव खत्म करने में कांग्रेस नही सरकार के साथ: गुलाम नबी आजाद

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE