आगामी विधानसभा चुनावों में कौमी एकता दल और समाजवादी पार्टी के विलय को लेकर लगाई जा रही सभी अटकलें समाप्त हो चुकी हैं. कौमी एकता दल नेता मुख्तार अंसारी ने इस बारें में कहा कि कौमी एकता दल का समाजवादी पार्टी में विलय नहीं होगा.

उन्होंने कहा कि कौमी एकता दल एसपी से गठबंधन को तैयार है, हम विलय नहीं चाहते. मंगलवार को मुख्तार अंसारी ने सपा नेता शिवपाल यादव से 45 मिनट लंबी मुलाकात की. ये मुलाकात विधानसभा में शिवपाल यादव के दफ्तर में हुई.

और पढ़े -   आजम खान ने एक बार फिर पार की हदे कहा, सेना करती है बलात्कार

इस मुलाकात के बाद मुख्तार अंसारी ने कहा की कौमी एकता दल अब समाजवादी पार्टी में विलय के खिलाफ है. लेकिन उन्होंने कहा कि अगर समाजवादी पार्टी, कौमी एकता दल से चुनाव में गठबंधन करती है तो उन्हें कोई एतराज नहीं होगा. हालांकि मुख्तार अंसारी ने दावा किया कि आज की उनकी मुलाकात उनके इलाके में बाढ़ को लेकर थी और पार्टी के गठबंधन या विलय के बारे में कोई बातचीत नहीं हुई.

और पढ़े -   इस्‍लाम के नाम पर पहले डराया जा रहा फिर मुस्लिमों की जान ली जा रही: ओवैसी

मुख्तार अंसारी फिलहाल जेल में बंद हैं लेकिन विधानसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए उन्हें अनुमति मिली है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE