रायपुर | भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह छत्तीसगढ़ के तीन दिवसीय दौरे पर चल रहे है. वो यहाँ अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावो की तैयारियो को और गति देने के लिए पहुंचे हुए है. इस दौरान उन्होंने पार्टी पधाधिकरियो को संबोधित भी किया और उन्हें विधानसभा चुनावो में 65 सीट जीतने का लक्ष्य दिया. इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए महात्मा गाँधी को भी लपेटे में ले लिया.

रायपुर में बीजेपी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा की कांग्रेस की कोई विचारधारा नही है, कोई सिद्धांत नही है. यह केवल आजादी प्राप्त करने का एक स्पेशल पर्पज व्हीकल मात्र था जिसको आजादी के लिए इस्तेमाल किया गया. खुद महात्मा गाँधी ने आजादी के बाद कांग्रेस को खत्म करने की बात कही थी, क्योकि वो दूरदर्शी थे, बहुत चतुर बनिया था वो.

और पढ़े -   मध्य प्रदेश निकाय चुनावो में जीत हासिल कर भी नुकसान में रही बीजेपी, मंदसौर में मिली करारी हार

महात्मा गाँधी के प्रति इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करने के बाद भी अमित शाह यही नही रुके उन्होंने आगे कहा की उसको (महात्मा गाँधी) मालूम था की आगे क्या होने वाला है. लेकिन उस समय जो नही हुआ वो अब हो रहा है. कांग्रेस के ही कुछ लोग इसे बिखेरने का काम कर रहे है. महात्मा गाँधी ने ऐसा इसलिए कहा था क्योकि वो भी जानते थे की कांग्रेस की को विचारधारा नही है और न ही उनके पास देश चलाने का कोई सिद्धांत है.

और पढ़े -   संघ पर राहुल गाँधी के वार से बोखलाई बीजेपी, संघ नेता भी हुए लाल

अमित शाह ने आगे और आक्रमक होते हुए कहा की कांग्रेस हमेशा उलझन में रहती है, कोई क्या कहेगा, कोई क्या सोचेगा लेकिन हमारी सोच बिलकुल साफ़ है जो देशद्रोही नारे लगाता है वो देशद्रोही है. कांग्रेस में चल रहे वंशवाद के मुद्दे पर उन्होंने कहा की सबको पता है की सोनिया गाँधी के बाद उनका बेटा कांग्रेस का अध्यक्ष बनेगा लेकिन बीजेपी में किसी को नही पता की अगला अध्यक्ष कौन होगा. देश की 1650 पार्टियों में केवल बीजेपी और सीपीआई (एम) में आन्तरिक लोकतंत्र है.

और पढ़े -   ज़मीर नहीं कहता कि मैं नीतीश कुमार का साथ दूँ: अली अनवर

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE