भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने देश भर में गाय के नाम पर हो रही हत्या पर अपनी सरकार का बचाव करते हुए कहा कि ऐसे कई मामले पिछली सरकार के समय में भी सामने आये थे, लेकिन उस वक्त सवाल नहीं उठाये गए थे.

उन्होंने कहा, हत्या के सबसे ज्यादा केस साल 2011 से 2013 के बीच यानी कांग्रेस शासनकाल के दौरान सामने आए थे. हमारे कार्यकाल में जितनी हत्याएं हुई, उससे कहीं ज्यादा 2011, 2012, 2013 में हुई थी, मगर कभी ये सवाल नहीं उठा था.

अमित शाह ने कहा कि गाय के नाम पर की जा रही हत्याएं सही नहीं है. आप के पास ऐसा कोई मामला है, जिसमें हत्या के बाद गिरफ्तारी नहीं हुई. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ऐसे शासन को लेकर प्रतिबद्ध है जिसमें सभी समुदायों के साथ समान व्यवहार हो.

और पढ़े -   अमेरिका में बोले राहुल - असहिष्णुता और बेरोजगारी के चलते देश खतरे में जा रहा

गौरतलब है कि कांग्रेस के मुखपत्र नेशनल हेराल्ड के स्मृति संस्करण की लॉचिंग के मौके पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इन हत्याओं पर मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं देश के मूलभूत सिद्धांतों, संविधान की मर्यादा के खिलाफ हैं. इन्हें नहीं रोका गया तो हमारी आने वाली पीढ़ियां सवाल पूछेंगी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE