नागौर : राजस्थान के नागौर में RSS  की अख‍िल भारतीय प्रतिन‍िध‍ि सभा में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि बीजेपी या सरकार संघ के मुख्य सिद्धांतों से कोई समझौता नहीं करेगी.BJP  अध्यक्ष अमित शाह संघ की   द‍िवसीय बैठक में शामिल होने के लिए 11 मार्च को नागौर पहुंचे थे और 12 मार्च तक यहां मौजूद रहे. एक न्यूज़ एजेंसी के अनुसार उन्होंने मोदी सरकार की उपलब्धियों को गिनवाया और वादा किया कि सरकार उन्हीं उसूलों  और विचारों पर चलेगी, जिन्हें लेकर भारतीय जनता पार्टी का निर्माण हुआ और हजारों स्वयंसेवकों ने अपनी आहुति दी. उन्होंने कहा कि सरकार  विपक्ष के दबाव में आकर नज़रिए से समझौता नहीं करेगी.शाह के साथ संगठन के महामंत्री रामलाल भी मौजूद थे. बीजेपी अध्यक्ष ने बताया कि देश के हर जिले में पार्टी का दफ्तर खोलने के लिए किस तरह प्रयास चल रहे हैं. अमित शाह ने प्रधानमंत्री मोदी को राष्ट्रवाद का नायक बताया और मोदी सरकार का संघ के अलग-अलग संगठनों में तालमेल पर जोर दिया.

और पढ़े -   अमित शाह ने हैदराबाद को क्या खाला का घर समझ रखा, दम है तो चुनाव लड़ कर दिखाए: ओवैसी

Amit-Shah-620x400

अमित शाह ने सम्मेलन में मौजूद लोगों से कहा कि बजट में ईपीएफ पर टैक्स के प्रस्ताव वित्त मंत्री ने भारतीय मजूदर संघ से मिली प्रतिक्रिया के बाद वापस लिया. उन्होंने कुछ विवादित मुद्दों संघ से तब तक धैर्य बनाए रखने के लिए कहा, जब तक कि सरकार की ताकत राज्यसभा में मजबूत नहीं होती.

अमित शाह ने संघ से अप्रैल-मई में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए मदद मांगी. आम तौर पर संघ सीधे तौर पर बीजेपी के चुनाव प्रचार में शामिल नहीं होता, लेकिन शाह चाहते हैं कि आरएसएस 2014 के लोकसभा चुनावों की तरह प्रचार में बीजेपी की खुलकर मदद करे. (Siasat)

और पढ़े -   दो करोड़ रोजगार देने का वादा भी निकला जुमला, अमित शाह ने कहा, सबको रोजगार देना संभव नही

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE