amar-singh-1466056824

नई दिल्ली | उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े सियासी खानदान में पिछले एक महीने से जारी विवाद में अमर सिंह का नाम घसीटे जाने पर उन्होंने अपनी चुप्पी तोड़ी है. अमर सिंह ने अखिलेश यादव के दलाल बताये जाने पर काफी दुःख व्यक्त किया और कहा की मैं अखिलेश के इस बयान से काफी आहत हूँ. अमर सिंह ने रामगोपाल यादव पर जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए अमर सिंह ने कहा की मुझे अखिलेश द्वारा दलाल बताया जाने से काफी दुःख पहुंचा है. जब अखिलेश की शादी हो रही थी तब सब लोग उसके खिलाफ थे, केवल मैं था जिसने उस समय अखिलेश का साथ दिया था. अखिलेश की शादी की एल्बम में ऐसा कोई फोटो नही होगा जिसमे यह ‘दलाल’ न हो. अगर मेरी बलि देने से समस्या सुलझती हो तो मेरी बलि दे दो.

अमर सिंह ने आगे कहा की मेरी समझ में यह नही आ रहा की आखिर मैंने ऐसा क्या किया है की हर जगह मेरा पीछा किया जा रहा है. मुझे ऐसा लगता है जैसे मेरा फ़ोन टेप किया जा रहा हो. मेरे साथ ऐसा बर्ताव हो रहा है जैसे मैंने किसी का कत्ल या बलात्कार किया हो. जब अखिलेश को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया तब शिवपाल ने खुद उनका पार्टी ऑफिस में स्वागत किया था. शिवपाल ने तब अमर सिंह पर आरोप नही लगाए थे.

अमर सिंह ने अख़बार में अखिलेश और मुलायम के खिलाफ खबर छपवाने पर सफाई देते हुए कहा की अगर किसी को शक है तो संपादक को बुलाकर पूछ ले. अखिलेश को ऑस्ट्रेलिया ले जाने वाला भी मैं ही हूँ. रामगोपाल यादव पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए कहा की जब आदमी सत्ता में होता है तो वो कुछ भी करा सकता है. मुझे रामगोपाल से जान का खतरा है , अगर मेरी जान जाती है तो इसके लिए रामगोपाल जिम्मेदार होगा.

अखिलेश की रथ यात्रा में न जाने पर बोलते हुए अमर सिंह ने कहा की अगर मैं वहां गया तो मेरी पिटाई हो सकती है, मेरे कपडे फाड़े जा सकते है और मैं यह नही चाहता की मेरे भतीजे पर चाचा के कपडे फडवाने के आरोप लगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें