रामपुर में  आजम खान दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना अहमद बुखारी से काफी खफा दिखे। आजम खान ने बुखारी को पालीटिकल ब्लैकमेलर तथा पापी बताया है।

azam khan

लखनऊ में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ मौलाना बुखारी की दो बार की मुलाकात के बाद आजम खान का पारा चढ़ गया है। उन्होंने कहा कि मौलाना बुखारी को तो जामा मस्जिद में नमाज पढ़ानी चाहिए लेकिन यह आरएसएस का एजेंट हैं। उन्होंने कहा कि मौलाना बुखारी पालीटिकल ब्लैकमेलर है। वह अपना काम निकालने के लिए किसी भी नेता की शान में कसीदे पढ़ सकता है।

आजम ने कहा कि इमाम बुखारी ने एक पाप किया है। उसने एक हिन्दू लड़की को जबरन मुसलमान बनाया है। इसके बाद हिन्दू लड़की को होने वाले इमाम अपने लड़के की दुल्हन बनाया। वह बहुत बड़ा पापी है। आजम ने कहा कि शाही इमाम अहमद बुखारी तथा आरएसएस एक सिक्के के दो रूख़ हैं।

इसके बाद नगर विकास मंत्री आजम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने झूठे वादे कर के सरकार तो बना ली, लेकिन लोगो को रोजगार नही मिला। अब जनता आक्रोशित है। जाट आरक्षण आंदोलन इसी का नतीजा है। जाट कानून के दायरे मे रहकर शांतिपूर्वक अपनी मांग रखें। (hindkhabar)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें