kanhiya-1

जवाहर लाल यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने आरएसएस पर कड़ा हमला करते हुए कहा कि राष्ट्रीयता की परिभाषा आरएसएस के दफ्तर से तय नहीं होगी उसके लिए भारत का संविधान है. कन्हैया ने अफ़ज़ल गुरु और नाथूराम गोडसे को आतंकी बताते हुए कहा कि अफजल गुरु आतंकी हैं तो नाथूराम गोडसे भी आतंकवादी ही है. साथ ही कन्हैया ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें ‘मोदी ऐंड कंपनी’ बताया.

कन्हैया ने कहा कि मोदी ने चाय बेची या नहीं यह हमें नहीं मालूम, मगर उनका यही रवैया रहा तो वे एक दिन देश ज़रूर बेच देंगे.  ईस्ट इंडिया कंपनी और ‘मोदी ऐंड कंपनी’ में कोई अंतर नहीं रह गया है. उन्होंने आगे कहा जो लोग मटन बदल देने से, वीडियो बदल देने से सोचते हैं कि देश बदल रहा है, वे जनता को बेवकूफ़ समझने की भूल कर रहे हैं. जब एक-एक चीज़ राजनीति से तय हो रही है, तोे आपको अपनी राजनीति तय करनी पड़ेगी.

उन्होंने देश की शिक्षा निति पर सवाल उठाते हुए कहा कि  दुबले-मोटे, ग़रीब-अमीर, सबके वोट की क़ीमत में जब कोई फ़र्क नहीं है, तो उनके बाल-बच्चों की शिक्षा में फ़र्क क्यों ? उन्होंने आगे कहा ‘सबको शिक्षा, हम सबको काम’ की लड़ाई मुस्तैदी से लड़ते रहेंगे और सामाजिक व सांप्रदायिक सौहार्द स्थापित करने के लिए जान की बाजी लगा देंगे, मगर इस देशविरोधी सरकार के कुकृत्यों व जनविरोधी नीतियों की असलियत बताना बंद नहीं करेंगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें