नई दिल्ली | आम आदमी पार्टी ईवीएम् को लेकर आक्रमक निति अपनाये हुए है. पार्टी किसी भी कीमत पर इस मुद्दे को छोड़ने के मूड में नही लग रही है. यही नही अब पार्टी का मकसद दूसरी पार्टियों को भी अपने साथ जोड़ने का है. इसलिए आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने आज प्रेस कांफ्रेंस कर बाकी पार्टियों से भी इस मुद्दे के साथ जुड़ने की अपील की है. इसके अलावा आज आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने चुनाव आयोग के सामने भी प्रदर्शन किया.

और पढ़े -   कर्नल पुरोहित के जमानत मिलने पर भड़के ओवैसी, कहा - आतंकियों का हो रहा महिमामंडन

आगामी सभी चुनावो में ईवीएम् के साथ VVPAT मशीन का इस्तेमाल करने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओ ने कई आप विधायक के साथ चुनाव आयोग दफ्तर के सामने प्रदर्शन किया. पार्टी की मांग है की चुनाव आयोग तुरंत इस बारे में आदेश जारी करे की आगामी चुनावो में VVPAT का इस्तेमाल होगा और मतगणना के समय करीब 25 फीसदी बुथो की मशीनो का मिलान VVPAT के साथ किया जाये.

उधर आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने आज इसी मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस करके बताया की कैसे बीजेपी ने सभी चुनावो में जीत दर्ज की. उन्होंने कहा की नोट बंदी के दौरान सभी मीडिया चैनल ने दिखाया की सरकार के इस निर्णय से जनता कितनी गुस्से में है. फिर भी नोट बंदी के बाद हुए सभी चुनोव में बीजेपी ने जीत हासिल की. यह दर्शाता है की कही न कही ईवीएम् मशीनो में गड़बड़ हुई है.

और पढ़े -   कश्मीर पर मोदी के 'गोली और गाली' वाले बयान पर भडकी शिवसेना कहा, केवल धारा 370 हटाना ही एक मात्र हल

सौरभ ने आगे कहा की मेरे अलावा चुनाव आयोग भी यह साबित कर चुकी है की ईवीएम् में मशीन में छेड़छाड़ संभव है. भिंड और धौलपुर में जो हुआ वो यह सब साबित करता है. धौलपुर में करीब 26 मशीनो में देखा गया की बटन कोई भी दबाया वोट बीजेपी को जा रही है. इसलिए हम उत्तराखंड , उत्तर प्रदेश में सभी विपक्षी पार्टियों से यह पूछने वाले है की वो कोई भी 5 ऐसे बूथ बताये जहाँ उनको पूरी उम्मीद थी की उनको काफी वोट मिलेगी लेकिन ऐसा नही हुआ. इसके बाद हम उन बूथों पर इस्तेमाल हुई ईवीएम् को चुनाव आयोग से देने की मांग करेंगे.

और पढ़े -   अगर मुसलमान मान ले हिंदुओं का अपना पूर्वज, तो फिर हम एक हो जाएंगे: स्वामी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE