varun-gandhi_afp

नई दिल्ली | बीजेपी सांसद और उत्तर प्रदेश में मजबूती से पैर पसार रहे वरुण गाँधी नई मुसीबत में फंसते दिख रहे है. वरुण गाँधी पर अमेरिका के एक वकील ने रक्षा मामलो से जुडी जानकारियान लीक करने का आरोप लगाया है. हालाँकि वरुण गाँधी ने इन आरोप को ख़ारिज करते हुए इन्हें हास्यपद और बेवकूफाना करार दिया है. अमरीकी वकील ने इस मामले में एक पत्र प्रधानमंत्री कार्यालय को लिखा है.

अमेरिकी वकील और विवादित हथियार विक्रेता अभिषेक वर्मा के साथी रहे सी एडमंड्स ने प्रधानमंत्री कार्यालय, रक्षा मंत्रालय और राष्ट्रिय सुरक्षा सलाहकार को पत्र लिखकर वरुण गाँधी पर आरोप लगाए की हथियार निर्माताओ ने वरुण गाँधी को हनी ट्रैप में फंसकर उनसे रक्षा मामलो की संवेदनशील जानकारियां हासिल की. हथियार निर्मातो ने वरुण गाँधी की वेश्याओं और एस्कॉर्ट सर्विस चलाने वाली महिलाओ के साथ तस्वीरे ली.

एडमंड्स के मुताबिक हथियार निर्माताओ ने वरुण गाँधी को इन तस्वीरो के बल पर ब्लैकमेल किया जिसकी वजह से वरुण को रक्षा से जुडी जानकारिया उनको देनी पड़ी. एडमंड्स ने अपने पत्र के साथ कुछ तस्वीरे भी भेजी है. हनी ट्रैप के बारे में अपनी सफाई देते हुए वरुण गाँधी ने कहा की ये आरोप हास्यपद है. एडमंड्स जिन रक्षा समितियो की बैठक की बात कर रहा है उनमे मैं कभी गया ही नही.

वरुण गाँधी ने कहा की चूँकि मुझे उत्तर प्रदेश में कोई बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है इसलिए इन सबसे दूर रखने के लिए मेरे खिलाफ यह साजिश रची जा रही है. मैं पिछले 15 साल से अभिषेक वर्मा से नही मिला. गौरतलब है की एडमंड्स 2012 तक अभिषेक वर्मा के सहयोगी रहे है. अलग होने के बाद दोनों ने एक दुसरे पर भ्रष्टाचार और मनी लोंड्रिंग के कई गंभीर आरोप लगाए.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें