1478883024-9958

देहरादून | अभी देश नोटबंदी के असर से उभरा भी नही था की उत्तर भारत में नमक को लेकर फैली एक अफवाह ने माहौल गरमा दिया. नमक की किल्लत होने की अफवाह फैलते ही लोगो की भीड़ दुकानों की और दौड़ पड़ी. एक दम से भारी तादात में आई मांग की वजह से नमक की कालाबाजारी शुरू हो गयी. इस अफवाह ने इतना जोर पकड़ा की नमक का भाव 200 के पार पहुँच गया.

उत्तर प्रदेश , दिल्ली और उत्तराखंड की कई जगहों से नमक की कालाबाजरी होने की खबर मिली है. कानपुर में तो नमक को लेकर पुलिस और जनता के बीच पथराव तक हुआ. यहाँ भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठिया तक भांजनी पड़ी. उधर देहरादून से भी खबर मिली है की यहाँ भी लोग जनरल स्टोर पर नमक खरीदने के लिए उमड़ रहे है. यहाँ भी नमक के भाव 100 के पार जा चुके है.

न्यू एजेंसी एएनआई ने खबर की पुष्टि करते हुए कहा की उत्तर प्रदेश के कानपुर , मुरादाबाद, मेरठ, मुज़फ्फरनगर और कई अन्य शहरो में नमक को लेकर अफरा तफरी मची हुई है. दुकानों पर नमक खत्म हो चुके है और दुकानदारो ने अपनी दुकानों पर नमक खत्म होने के बोर्ड भी टांग दिए है. दिल्ली के अन्दर भी कई जगहों पर नमक खरीदने के लिए भीड़ देखी गयी है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए कहा की दिल्ली में चीनी और नमक की कमी को लेकर अफवाहे फैलाई जा रही है. यह सरासर गलत है, जो भी जमाखोरी करेगा वो बक्शा नही जायेगा. उधर दहशत में बाजार बंद हो रहे है. वही कानपुर से खबर आई है की यहाँ के शक्कर पट्टी और घंटाघर में नमक की खरीद को लेकर पथराव तक हुआ. वही उपभोक्ता मामलो के सचिव हेम पाण्डेय ने बताया की नमक की कोई किल्लत नही है , कृपया अफवाहों पर ध्यान न दे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें