पठानकोट: पंजाब के पठानकोट में एयरफोर्स बेस पर आज तड़के करीब साढ़े 3 बजे पाकिस्तानी आतंकियों के एक ग्रुप ने हमला किया। सुरक्षाबल और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर हो गए जबकि दो जवान शहीद तथा 6 जवान घायल हो गए। सूत्रों ने बताया कि 4-5 आतंकी सेना की वर्दी में घुसे थे, इस हमले के पीछे जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है। पठानकोट आतंकी हमले पर दिल्ली में हाईलेवल मीटिंग जारी है।

live-02-01-2016-1451704295_storyimage

* इलाके में छानबीन अब तक पूरी नहीं हुई, तलाशी अभियान जारी- ढिल्लों
* पंजाब पुलिस के एडीजीपी (कानून और व्यवस्था) एच एस ढिल्लों ने बताया कि आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ समाप्त हो गई।
* पुलिस ने बताया कि पुलिस अधीक्षक का अपहरण करने वाले हमलावरों ने पाकिस्तान में कुछ लोगों को फोन भी किए। अधिकारियों ने बताया कि इलाके में खुफिया एजेंसियों ने संभावित आतंकी हमले के बारे में अलर्ट किया था।
* आतंकी हमले को देखते हुए पंजाब में हाईअलर्ट।
* MHA को पंजाब में आतंकी हमले का अंदेशा था।
* एनएसए आतंकी हमले पर पीएम को जानकारी देंगे। आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन खुद एनएसए कर रहे हैं। अजित डावोल ऑपरेशन की निगरानी कर रहे हैं
* आतंकियों की तलाशी अभियान जारी। सर्च ऑपरेशन में ड्रॉन की मदद ली जा रही है।
* सूत्रों ने बताया कि एयरबेस में सुरक्षाबलों-आतंकियों के बीच मठभेड़ खत्म, फिलहाल फायरिंग की आवाज नहीं आ रही है। सर्च ऑपरेशन जारी है। दो और आतंकी के छुपे होने की खबर है।
* आतंकी अकालगढ़ गांव से एयरफोर्स बेस में घुसे थे।

एक टॉप सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि वायु सेना बेस को नष्ट करने के उद्देश्य से वहां आज तड़के सेना की वर्दी पहने कम से कम 4 से 5 आतंकियों ने हमला किया था। समझा जाता है कि आतंकी जैश ए मोहम्मद आतंकी गुट के थे। एक रक्षा प्रवक्ता के अनुसार, आतंकियों के ग्रुप ने आज तड़के साढ़े तीन बजे वायु सेना बेस पर हमला किया। पुलिस ने बताया कि वायु सेना बेस और चक्की नदी के बीच के इलाके में कल (शुक्रवार) एक तलाशी अभियान चलाया गया था जिसके बाद कुछ आतंकियों ने सेना और पुलिस कर्मियों पर हमला किया।

दिल्ली में एक शीर्ष सूत्र ने बताया कि हमले की आशंका के चलते पहले से ही सतर्क सुरक्षा कर्मियों ने हमलावरों का जमकर मुकाबला किया जिससे आतंकी वायु सेना बेस के अंदर नहीं घुस पाए। वे लोग बाहर के एक बड़े इलाके तक ही पहुंच पाए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) आरके बख्शी ने बताया कि गोलीबारी में 4 संदिग्ध आतंकी मारे गए। गोलीबारी में दो जवान शहीद हो गए और 6 घायल हो गए हैं।

बृहस्पतिवार रात को सेना की वर्दी पहने कुछ सशस्त्र लोगों ने पंजाब पुलिस के एक पुलिस अधीक्षक का अपहरण कर लिया था जिसके बाद हमले की आशंका के चलते सुरक्षा प्रतिष्ठान को अलर्ट जारी कर दिया गया था। बाद में हमलावरों ने अधिकारी को पीटा तथा वाहन से नीचे उतार दिया था। इस घटना के बाद पठानकोट और गुरदासपुर जिलों के सीमाई इलाकों में एक तलाशी अभियान चलाया गया था। पुलिस ने बताया कि हमलावर गैर परिचालन इलाके (नॉन-ऑपरेशनल एरिया) तक ही सीमित रहे। उन्होंने बताया कि आतंकियों को निष्क्रिय करने के लिए हेलीकॉप्टरों, एनएसजी कमांडो और एसडब्ल्यूएटी (स्वाट) के दलों को लगाया गया।

पुलिस के अनुसार, मुठभेड़ तड़के साढ़े तीन बजे शुरू हुई। अधिकारियों ने बताया कि समझा जाता है कि हमला जैश ए मोहम्मद ने किया और इसका उद्देश्य सैन्य प्रतिष्ठानों को नष्ट करना था। पुलिस के अनुसार, शेष बचे एक आतंकी को एक सीमित इलाके में ही रोकने की कोशिश की जा रही है ताकि ज्यादा नुकसान न हो सके। उन्होंने बताया कि भारी मात्रा में आरडीएक्स लिए आतंकियों ने वायु सेना बेस में पीछे से प्रवेश किया जहां जंगल है।

इस बीच, प्राधिकारियों ने बताया कि वायुसेना बेस में हेलीकॉप्टर और अन्य उपकरण पूरी तरह सुरक्षित हैं। पुलिस के मुताबिक, वायु सेना बेस का तकनीकी इलाका भी सुरक्षित है। पूरे इलाके को घेर लिया गया है। पुलिस ने बताया कि पुलिस अधीक्षक का अपहरण करने वाले हमलावरों ने पाकिस्तान में कुछ लोगों को फोन भी किए। अधिकारियों ने बताया कि इलाके में खुफिया एजेंसियों ने संभावित आतंकी हमले के बारे में अलर्ट किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अचानक पाकिस्तान यात्रा के कुछ दिनों बाद यह हमला हुआ। एक साल के अंदर पंजाब में यह दूसरा बड़ा आतंकी हमला है। पिछले साल जुलाई में तीन आतंकियों ने दियाना नगर में पुलिस थाने में घुस कर गोलीबारी की थी। लगभग 12 घंटे की गोलीबारी के बाद इन आतंकियों को मार डाला गया था। कल (शुक्रवार) 5 संदिग्ध आतंकियों ने एक एसपी तथा दो अन्य का अपहरण कर लिया और फिर उन्हें पीटा तथा वाहन से नीचे उतार दिया था। इस घटना के बाद पठानकोट और गुरदासपुर जिलों के सीमाई इलाकों में एक तलाशी अभियान चलाया गया था।

साभार http://zeenews.india.com/


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें