नई दिल्‍ली: रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने 66वें सेना दिवस के मौके पर कहा कि आतंकियों को बेअसर करने की जरूरत है। उन्‍होंने कहा कि जब तक हमें चोट पहुंचाने वाले को दर्द का अहसास नहीं होता है तब तक इस तरह के हमले नहीं रुकेंगे। हालांकि उन्‍होंने बाद में यह भी साफ किया कि इसका कोई दूसरा अर्थ न निकाला जाए। उन्होंने हाल ही पंजाब के पठानकोट में हुए आतंकी हमले के मद्देनजर यह बात कही।

100044-390787-manohar-98

रक्षा मंत्री पर्रिकर ने कहा है कि वह किसी भी भारतीय सैनिक के शहीद होने पर दुखी होते हैं। लेकिन, इसके उलट हमें जवानों की शहादत पर गर्व करना चाहिए। उन्‍होंने चेन्‍नई बाढ़ के दौरान सैनिकों द्वारा किए गए राहत कार्यों के लिए उनकी काफी तारीफ की।

साभार http://zeenews.india.com/


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें