2533_simi-activists

भोपाल | दिवाली की रात भोपाल सेंट्रल जेल से भागे सभी 8 सिमी सदस्यों के एनकाउंटर की कहानी उलझती जा रही है. इस एनकाउंटर के रोज नए नए ऑडियो और विडियो सामने आ रहे है. ये ऑडियो और विडियो , एनकाउंटर के फर्जी होने का संदेह पैदा करते है. इसी बीच मध्य प्रदेश सरकार ने भोपाल एनकाउंटर की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए है.

उधर इस एनकाउंटर के चार दिन बाद एक और ऑडियो क्लिप सामने आई है. इस ऑडियो क्लिप में मौकाये वारदात पर मौजूद पुलिस बल और कण्ट्रोल रूम के बीच की बातचीत सुनी जा सकती है. इस ऑडियो क्लिप में पुलिस बल को वायरलेस सेट की जगह मोबाइल इस्तेमाल की सलाह दी जा रही है. इसके अलावा इस ऑडियो क्लिप में एक अधिकारी पुलिस बल को , सभी सिमी सदस्यों को घेर कर मारने का आदेश देता सुना जा सकता है.

करीब 9 मिनट 48 सेकंड लम्बे इस ऑडियो क्लिप में घटना स्थल पर मौजूद पुलिस बल , अधिकारी को बता रहे है की दूसरी तरफ से फायरिंग शुरू हो गयी है. हम सभी अपनी अपनी पोजीशन ले ले. इसी बीच एक अधिकारी पुलिस बल को कहता है की यह सुनिश्चित करो की कोई बचना नही चाहिए. पीछे मत हटो, उन्हें घेर लो और उनका काम तमाम कर दो.

अंत में एक पुलिस अधिकारी कण्ट्रोल रूम को सूचना देता है की सभी आठ सिमी सदस्य मारे गए. उधर से जवाब मिलता है की हाँ डीएसपी क्राइम ने बताया की सभी मारे गए है. इसके लिए तुम सब को बधाई. इस दौरान एक अधिकारी ने बताया की सर 5 को गोली लगी है. तब उधर से जवाब आता है की शाबाश , कोई दिक्कत नही है, हम लोग पहुँच रहे है.

उधर एक व्यक्ति एम्बुलेंस भेजने के लिए कहता है. उसने कहा की दो तीन एम्बुलेंस खेजरावाडी भेजो. तभी आवाज आती है की इलाज में कितना खर्च आएगा. फिर कोई कहता है की कोई भी जिन्दा नही बचना चाहिए. जब इस ऑडियो टेप के बारे में एसपी (सीआईडी ) अनुराग शर्मा से पुछा गया तो उन्होंने कहा की जांच में हर पहुलुओ को देखा जायेगा , वैसे मैंने अभी वो ऑडियो टेप नही सुना है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें