अहमदाबाद | गौरक्षा के नाम पर देश में हो रही हत्याओं पर पीएम मोदी की चुप्पी ने उन पर कई सवाल खड़े कर दिए थे. लोगो का तर्क था की छोटी से छोटी बात पर प्रतिक्रिया देने वाले मोदी, लगातार हो रही हत्याओं पर चुप क्यों है? हालाँकि मोदी सरकार के मंत्री और बीजेपी नेता हर बार उनका बचाव करते हुए कहते थे की हर मुद्दे पर पीएम मोदी अपनी राय रखे यह जरुरी नही है. लेकिन समाज में बढ़ते आक्रोश को देखते हुए मोदी ने गुरुवार को इस मामले में अपनी चुप्पी तोड़ दी.

और पढ़े -   एक छात्रा के साथ छेडछाड के बाद बीएचयु छात्राओं ने किया प्रदर्शन कहा, लड़के देखकर करते है हस्तमैथून, नही मिली कोई भी सुरक्षा

गुजरात के साबरमती आश्रम के 100 साल पुरे होने पर हुए कार्यक्रम में बोलते हुए मोदी ने कहा की गौभक्ति ने नाम पर हो रही हत्याए स्वीकार्य नही है. ये ऐसी चीज है जिससे खुद महात्मा गाँधी भी सहमत नही होते. अगर किसी को गौसेवा सीखनी है है तो विनोद भावे और महात्मा गाँधी से सीखे. गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा की आलोचना करते हुए मोदी ने कहा की समाज में हिंसा के लिए कोई जगह नही है. हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नही है.

और पढ़े -   एक मुस्लिम युवक ने दी चेतावनी कहा, रोहिंगा मुस्लिमो की सुरक्षा नही हुई तो देश में हिन्दू भी नही बचेगा , विडियो वायरल

इस दौरान मोदी ने गाय के ऊपर एक कहानी सुनाते हुए कहा की जब मैं सुनता हूँ की गाय के नाम पर किसी की हत्या की जा रही है तो उन्हें काफी तकलीफ होती है. कानून अपना काम करेगा, किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने की इजाजत नही है. कौन निर्दोष है, कौन दोषी है इसके लिए कानून है. मोदी ने आगे एक कहानी सुनाते हुए कहा की यह मेरे बचपन की सत्य घटना है.

और पढ़े -   बुलेट ट्रेन को लेकर आशुतोष राणा का तंज कहा, उधार की 'चुपड़ी' रोटी से अच्छी श्रम से अर्जित की गयी 'सुखी' रोटी

मोदी ने कहानी सुनाते हुए कहा की एक बार दुर्घटना में एक परिवार की एकलौती संतान की गाय के पैरो के नीचे आकर मौत हो गयी. इस बात से गाय इतनी आहत हो गई की उसने पीड़ित परिवार के घर के सामने आकर खाना पीना त्याग दिया. वो दिन भर रोती रहती थी. इसी वजह से कुछ दिन बाद उसकी मौत हो गयी. जो गाय पश्चाताप में अपना शरीर छोड़ देती है, उसके नाम पर अगर किसी की हत्या होती है तो उन्हें बड़ी तकलीफ होती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE